Top
Home > Lead Story > राज्यसभा में शिवसेना सांसद संजय राउत का कोरोना को लेकर तंज, पढ़े पूरी खबर

राज्यसभा में शिवसेना सांसद संजय राउत का कोरोना को लेकर तंज, पढ़े पूरी खबर

राज्यसभा में शिवसेना सांसद संजय राउत का कोरोना को लेकर तंज, पढ़े पूरी खबर

मुंबई। महाराष्ट्र में कोरोना के मामले बेतहाशा बढ़ रहे हैं। कोविड-19 के मामले में महाराष्ट्र ने भारत के सभी राज्यों को ही नहीं बल्कि कई देशों को भी पीछे छोड़ दिया। इस बीच गुरुवार को शिवसेना के सांसद संजय राउत ने महाराष्ट्र सरकार का बचाव करते हुए बताया कि प्रदेश में कोरोना से रिकवरी करने वालों की संख्या बढ़ी है। राउत ने धारावी का हवाला देते हुए कहा कि वह ये तथ्य इसलिए बता रहे हैं क्योंकि बीते दिनों सदन में सांसदों ने महाराष्ट्र सरकार की आलोचना की थी।

शिवसेना सदस्य संजय राउत ने कहा कि हमने कभी नहीं सोचा था कि ऐसी महामारी आएगी। उन्होंने कहा कि जिसके परिवार का कोई सदस्य इस बीमारी से पीड़ित हुआ है, उसका दुख समझा जा सकता है। उन्होंने कहा कि उनकी मां और छोटा भाई भी कोरोना वायरस से संक्रमित हैं और आईसीयू में हैं। उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधियों को जनता के बीच जाने की जरूरत होती ही है।

राउत ने इस दौरान केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल के 'भाभीजी के पापड़' पर भी तंज कसा। राउत ने कहा कि मैं सदस्यों से पूछना चाहता हूं कि इतने सारे लोग आखिर कोरोना से रिकवर कैसे हुए? क्या लोग भाभीजी के पापड़ खाकर ठीक हो गए? उन्होंने कहा कि यह कोई राजनीतिक लड़ाई नहीं है बल्कि यह लोगों की जिंदगी बचाने की लड़ाई है। गौरतलब है कि राउत कोरोना वायरस के मुद्दे पर स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्द्धन के बयान पर बहस के दौरान बोल रहे थे।

गौरतलब है कि राज्यसभा की कार्यवाही के दौरान कई सांसदों ने महाराष्ट्र में बेकाबू कोरोना पर चिंता जताई। उन्होंने इस मसले पर उद्धव सरकार की जमकर आलोचना की। इसी क्रम में बीजेपी सांसद विनय सहस्रबुद्धे भी महाराष्ट्र सरकार की आलोचना कर रहे थे। तभी जया बच्चन ने उन्हें जवाब देते हुए महाराष्ट्र सरकार का समर्थन किया। उन्होंने कहा कि उनके परिवार में चार लोग कोरोना संक्रमित हुए थे। उनका अस्पताल में अच्छे से इलाज हुआ और उनका काफी ख्याल रखा गया।

कोरोना के खिलाफ लड़ाई में दोषारोपण से बचना चाहिए

राउत ने कहा कि यह राजनीतिक लड़ाई नहीं बल्कि जिंदगी बचाने की लड़ाई है। इसमें हमें परस्पर दोषारोपण से बचना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस संकट के दौरान भी महाराष्ट्र सरकार की निंदा व खिंचाई की गयी। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्री और पूर्व क्रिकेटर चेतन चौहान की इसी बीमारी के कारण मौत हो गयी। उन्होंने कहा कि प्रदेश के ही एक नेता ने दावा किया था कि वहां अव्यवस्था के कारण चेतन चौहान की मौत हो गयी।

राज्यसभा में उन्होंने कहा, "मैं सदस्यों से पूछना चाहता हूं कि इतने लोग कैसे ठीक हुए? क्या लोग भाभी जी के पापड़ खाकर ठीक हो गए ? यह कोई राजनीतिक लड़ाई नहीं है बल्कि लोगों का जीवन बचाने की लड़ाई है।"

Updated : 17 Sep 2020 9:59 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top