Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > राहुल गांधी मप्र में खेल रहे "कौन बनेगा मुख्यमंत्री" का खेल - राजनाथ सिंह

राहुल गांधी मप्र में खेल रहे "कौन बनेगा मुख्यमंत्री" का खेल - राजनाथ सिंह

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कांग्रेस पर बोला तीखा हमला, कांग्रेस ने बारात तो निकाल दी पर दूल्हे का पता नहीं

राहुल गांधी मप्र में खेल रहे कौन बनेगा मुख्यमंत्री का खेल - राजनाथ सिंह
X

ग्वालियर । देश के गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि मध्यप्रदेश में कांग्रेस में कौन बनेगा मुख्यमंत्री का खेल चल रहा है। राहुल गांधी मध्यप्रदेश में कौन बनेगा मुख्यमंत्री बनाने का खेल खेल रहे हैं। वह मंदिर-मंदिर दौड़ रहे हैं। मैं पहली बार देख रहा हूं कि राहुल धोती लपेटकर मंदिरों में घूम रहे हैं। उन्हें भय है कि अब इसके बिना नैया पार होने वाली नहीं है। मैं पूछना चाहता हूं कि मंदिर और गाय चुनावी मुद्दे होना चाहिए। ये-मंदिर और गाय आपके लिए यह इलेक्शन स्टंट हो सकते हैं, लेकिन भाजपा के लिए यह सांस्कृतिक जीवन व आस्था का केंद्र हैं। वह ग्वालियर विधानसभा से भाजपा प्रत्याशी जयभानसिंह पवैया के समर्थन में कांच मिल में जनसभा को संबोधित कर रहे थे।

राजनाथ सिंह ने लोगों से श्री पवैया जी के पक्ष में वोट देने की अपील की और प्रदेश में चौथी बार भाजपा की सरकार बनाने के लिए समर्थन मांगा। भीड़ को सम्बोधित करते हुए गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि मैं यहां लगातार मध्यप्रदेश सरकार की उपलब्धि गिना सकता हूं, लेकिन मैं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के स्वभाव की बात करता हूं, उनका स्वभाव बहुत सरल है। उनके व्यक्तित्व में सरलता है इसलिए मध्यप्रदेश की राजनीति में बदलाव आया है। उन्होंने कहा कि भगवान राम ने और भगवान कृष्ण ने भी राजनीति की है, लेकिन राजनीति जैसे आदमियों के हाथ में जाती है वैसा ही बन जाती है। ये राजनीति जब भगवान राम जैसे लोगों के हाथ में जाती हैं तो भक्ति बन जाती है और भगवान कृष्ण के हाथों में जाती है तो युक्ति बन जाती है। महात्मा गांधी और नेताजी सुभाषचंद्र के हाथों में जाती है तो शक्ति बन जाती है। अशफाक और भगत सिंह के हाथों में जाती है तो मुक्ति बन जाती है और भ्रष्ट नेताओं के हाथ में जाती है तो सम्पत्ति और विपत्ति बन जाती है। इसलिए अच्छे को चुने। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस की मुख्यमंत्री का ही पता नहीं है। कोई छिंदवाड़ा में बैठकर मुख्यमंत्री बनने के लिए ताल ठोक रहा है तो राघौगढ़ में बैठकर ताल ठोंक रहा है तो कोई ग्वालियर में अपनी ताकत दिखा रहा है। जिस दिन कांग्रेस ने मुख्यमंत्री का प्रत्याशी बता दिया उस दिन कांग्रेस मध्य प्रदेश में खंड-खंड बंट जाएगी। उन्होंने कहा कि मैं जयभान पवैया को पिछले 20-25 सालों से जानता हूं। उनके द्वारा किए गए कामों पर बहस हो सकती है लेकिन कोई उनकी ईमानदारी पर उंगली नहीं उठा सकता है। केंद्रीय मंत्री नरेंद्रसिंह तोमर ने कहा कि भाजपा सरकार की सफलता देखकर कांग्रेस के पेट में दर्द हो रहा है। वह प्रदेश से शिवराज और केंद्र से मोदी को हटाने की बात कह रहे हैं, लेकिन उनके पास यह जवाब नहीं है कि उन्हें क्यों हटाया जाए। उनके पास कोई उपलब्धि नहीं है। कांग्रेस झूठ के सहारे अपनी इज्जत बचाने का प्रयास कर रही है।

किसी कांग्रेसी के बाप से नहीं लेता हूं साबुन

इससे पहले जनसभा को सम्बोधित करते जयभान पवैया ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि अभी कांग्रेस का एक रोड शो निकलने वाला है। 200 गाड़ियां कांग्रेस का झण्डा टांग के पेट्रोल डलवाने के लिए खड़ी है। ज्योतिरादित्य सिंधिया कांग्रेसियों से कहते हैं कि अगर पवैया जीत गया तो मेरी नाक कट जाएगी। लेकिन मैं सिंधिया से आप सबके आशीर्वाद के दम पर कहना चाहता हूं कि डॉक्टर से पहले ही बात कर लो प्लास्टिक सर्जरी का इंतजाम कर लो। सिंधिया जी सभाओं में मुझ पर हमला बोलते हुए कहते हैं कि मंत्री दिन में दो-दो बार कुर्ता बदलता है। इस पर मैं कहना चाहता हूं कि किसी कांग्रेसी के बाप से मैं साबुन नहीं लाता हूं। सिंधिया के खानदान में एक महीने में जितना लिपस्टिक में खर्च होता है उतने में मेरे चार जोड़ी कपड़े आते हैं।

Updated : 2018-11-26T21:28:36+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top