Top
Home > देश > धर्मनिरपेक्षता हमारी संस्कृति और इतिहास की बुनियाद : राहुल गांधी

धर्मनिरपेक्षता हमारी संस्कृति और इतिहास की बुनियाद : राहुल गांधी

धर्मनिरपेक्षता हमारी संस्कृति और इतिहास की बुनियाद  : राहुल गांधी
X

नईदिल्ली। कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी आज शनिवार को तमिलनाडु दौरे पर थुथुकडी पहुंचे। यहां एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा की संस्थाओं के बीच संतुलन बिगड़ता है तो राष्ट्र अशांत होता है। पिछले 6 सालों से सभी संस्थाओं पर व्यवस्थित तरीके से हमला किया जा रहा है। दुख है कि भारत में लोकतंत्र मर गया है क्योकि एक संस्था हमारे देश के संस्थागत संतुलन को बिगाड़ और बर्बाद कर रही है।

उन्होंने आगे कहा चीन ने भारत के कुछ स्ट्रेटेजिक इलाकों पर कब्ज़ा किया है। पहले उन्होंने डोकलाम में आइडिया को टेस्ट किया, उन्होंने देखा कि भारत ने प्रतिक्रिया नहीं की। फिर उन्होंने अपने उस आइडिया को लद्दाख, अरुणाचल प्रदेश में दोहराया। इस सरकार में देपसांग में हमारी जमीन वापस नहीं आएगी। धर्मनिरपेक्षता हमारी संस्कृति और इतिहास की बुनियाद है। इस देश में धर्मनिरपेक्षता पर हमला हो रहा है। बीजेपी इसका नेतृत्व कर रही हैं। यह सिर्फ संविधान पर हमला नहीं है बल्कि इतिहास और संस्कृति पर भी हमला है। जिसे रोकना बहुत जरुरी है।

मीनाक्षीपुरम में किया रोड शो -

इस दौरान राहुल मने मीनाक्षीपुरम में रोड शो किया। रोड शो के दौरान कांग्रेस नेता ने कहा - सरकार देश और तमिलनाडु के लोगों का अपमान कर रही है। वे तमिल भाषा, इतिहास और संस्कृति का अपमान कर रहे हैं। भारत बहुत से विचारों, भाषाओं और परंपराओं का संघ है सभी का सम्मान होना चाहिए। उन्होंने आगे कहा की तमिलनाडु की वर्तमान सरकार को दिल्ली की सरकार नियंत्रित कर रही है। नरेंद्र मोदी सोचते हैं कि तमिलनाडु एक टेलीविजन है और वे एक कमरे में बैठकर रिमोट कंट्रोल से तमिलनाडु को नियंत्रित कर सकते हैं। हम उनके रिमोट कंट्रोल की बैट्री को फेंकने जा रहे हैं।

Updated : 2021-02-27T18:04:30+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top