Top
Home > Lead Story > हुगली में प्रधानमंत्री ने कहा - बंगाल ने परिवर्तन का मन बना लिया

हुगली में प्रधानमंत्री ने कहा - बंगाल ने परिवर्तन का मन बना लिया

रेल परियोजना का शुभारंभ किया

हुगली में प्रधानमंत्री ने कहा - बंगाल ने परिवर्तन का मन बना लिया
X

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी की सरकार आएगी तो वह सोनार बंगाल के लिए काम करेगी और हर बंगाल वासी अपनी संस्कृति का गौरवगान कर सकेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ये बात हुगली में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कही।

उन्होंने कहा की वोट बैंक की राजनीति करने वालों को बंगाल के लोग कभी माफ नहीं करेंगे। बंगाल ने परिवर्तन का मन बना लिया है। यहां का जन उत्साह बड़ा संदेश दे रहा है। प्रसिद्ध साहित्यकार बंकिमचंद्र चटर्जी का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि मैंने सुना है कि 'वंदे मातरम भवन' बहुत बुरी हालत में है। यही वह स्थल है, जहां बंकिमचंद्र चटर्जी ने वंदे मातरम की रचना के लिए मंथन किया था।

विकास के संकल्प को सिद्ध किया -

आज इस वीर धरा से प. बंगाल अपने तेज विकास के संकल्प को सिद्ध करने के लिए एक बड़ा कदम उठा रहा है। पिछली बार मैं आपको गैस कनेक्टिविटी का, इंफ्रास्ट्रक्चर का उपहार देने आया था। आज रेल और मेट्रो कनेक्टिविटी को मजबूत करने वाले महत्वपूर्ण काम शुरु होने जा रहे हैं। आधुनिक हाईवे, आधुनिक रेलवे, आधुनिक एयरवे, इन देशों के आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर ने, इन देशों को आधुनिक बनाने में मदद की, वहां ये एक प्रकार से परिवर्तन का बड़ा कारण बना। हमारे देश में भी यही काम दशकों पहले होना चाहिए था। लेकिन हुआ नहीं।

सरकारों ने ऐतिहासिक क्षेत्र को अपने ही हाल में छोड़ दिया

मुझे हैरानी है कि जितनी भी सरकारें पश्चिम बंगाल में रहीं, उन्होंने इस ऐतिहासिक क्षेत्र को अपने ही हाल में छोड़ दिया, यहां के इंफ्रास्ट्रक्चर को, यहां की धरोहर को बेहाल होने दिया गया। वंदे मातरम भवन जहां बंकिमचंद जी 5 साल रहे, कहते हैं वो तो बहुत बुरे हाल में है। इतने वर्षों में जितनी सरकारें यहां रही हैं, उन्होंने इस पूरे क्षेत्र को अपने हाल पर छोड़ दिया। यहां के इंफ्रास्ट्रक्चर और धरोहर को बेहाल होने दिया गया।

वो वंदे मातरम जिसने आजादी की लड़ाई में नए प्राण फूंके, हमारे क्रांतिवीरों को नई ताकत दी, मातृभूमि को सुजलाम्-सुफलाम् बनाने के लिए प्रेरित किया। 'वंदे मातरम', सिर्फ इन दो शब्दों ने, गुलामी की निराशा में जी रहे देश को नई चेतना से भर दिया।ऐसे अमर गान की रचना करने वाले के स्थान को न संभाल पाना, बंगाल के, गौरव के साथ बहुत बड़ा अन्याय है। इस अन्याय के पीछे बहुत बड़ी राजनीति है। ये वो राजनीति है जो देशभक्ति के बजाय वोटबैंक, सबका विकास के बजाय तुष्टिकरण को बल देती है।आज यही राजनीति, बंगाल में लोगों को मां दुर्गा की पूजा से रोकती है, उनके विसर्जन से रोकती है। बंगाल के लोग, वोटबैंक की राजनीति के लिए अपनी संस्कृति का अपमान करने वाले ऐसे लोगों को कभी माफ नहीं करेंगे।

रेल परियोजना का लोकार्पण किया -

चुनावी गर्मी के बीच प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बंगाल पहुंचे हैं। यहां उन्होंने कई रेल परियोजनाएं राष्ट्र को समर्पित कीं। इसके अलावा उन्होंने पूर्ण हो चुकी कुछ अन्य परियोजनाओं का उद्घाटन भी किया।

Updated : 22 Feb 2021 11:41 AM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top