Top
Home > Lead Story > त्योहार देश की विविधता की भावना बताते है : प्रधानमंत्री

त्योहार देश की विविधता की भावना बताते है : प्रधानमंत्री

त्योहार देश की विविधता की भावना बताते है : प्रधानमंत्री
X

नईदिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को देशवासियों को नववर्ष के दिन से शुरू होने वाले विभिन्न त्योहारों की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि त्योहार भारत की विविधता और एक भारत श्रेष्ठ भारत की भावना को प्रदर्शित करते हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर कहा, अगले कुछ दिनों में, भारत भर के लोग विभिन्न त्योहारों को चिह्नित करने जा रहे हैं। ये त्योहार भारत की विविधता और एक भारत, श्रेष्ठ भारत की भावना को प्रदर्शित करते हैं। इन विशेष अवसरों से पूरे देश में खुशी, समृद्धि और भाईचारा फैलता है। एक अन्य ट्वीट में कहा, सभी देशवासियों को नव संवत्सर की मंगलकामनाएं। यह पावन अवसर हर किसी के जीवन में हर्षोल्लास लेकर आए।

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्विटर पर एक तस्वीर साझा करते हुए लिखा, ''देशवासियों को नवरात्रि की बहुत-बहुत शुभकामनाएं। जय माता दी।'' प्रधानमंत्री ने गुड़ी पड़वा, साजिबु चेरोबा,नवरेह, चेटीचंड और वैशाखी, की सभी देशवासियों को बधाई दी।

उल्लेखनीय है कि हर वर्ष चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि को नववर्ष शुरू होता है। इस बार हिंदू नववर्ष, 13 अप्रैल से शुरू हो रहा है। हिंदू कैलेंडर के अनुसार, इसी दिन से ही चैत्र माह की नवरात्रि शुरू हो जाती है। देश के विभिन्न भागों में इसे अलग-अलग नामों से मनाया जाता है, परंतु उल्लास, उमंग और घनिष्ठता की भावना से परिपूर्ण उत्सवी माहौल हर जगह एक समान होता है। आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के लोग 'उगादि' और कर्नाटक में 'युगादी' के नाम से इस त्योहार को मनाते हैं। महाराष्ट्र में इसे 'गुड़ी पड़वा' और तमिलनाडु में 'पुथांडु' के नाम से यह त्योहार मनाया जाता है। केरल में मलियाली भाई-बहन इसे 'विशु' और पंजाब में 'वैशाखी' के नाम से इस उत्सव को मनाते हैं। ओडिशा में इसे 'पणा संक्राति' के नाम से मनाया जाता है। पश्चिमी बंगाल में 'पोइला बोइशाख' और असम में 'बोहाग बिहू' नव वर्ष के आगमन का प्रतीक है।

Updated : 13 April 2021 7:22 AM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top