Home > Lead Story > केरल में PFI का प्रदर्शन हुआ हिंसक, कई स्थानों पर की आगजनी-बमबारी और तोड़फोड़

केरल में PFI का प्रदर्शन हुआ हिंसक, कई स्थानों पर की आगजनी-बमबारी और तोड़फोड़

कांग्रेस ने समर्थन में रोकी भारत जोड़ो यात्रा

केरल में PFI का प्रदर्शन हुआ हिंसक, कई स्थानों पर की आगजनी-बमबारी और तोड़फोड़
X

तिरुवनंतपुरम। पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया(PFI) के 15 राज्यों में 93 ठिकानों पर राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) द्वारा की गई छापेमारी के विरोध में आज केरल ईकाई ने बंद बुलाया। सुबह से ही संगठन के नेता उग्र रूप धारण किए हुए नजर आ रहे। शाम होते-होते ये विरोध हिंसक हो गया। बंद के दौरान केरल के कई शहरों में तोड़फोड़ व बवाल की खबरें आ रही हैं। केरल की राजधानी तिरुवनंतपुरम और कोयट्टम में PFI कार्यकर्ताओं ने दर्जनों सरकारी बसों और गाड़ियों में तोड़फोड़ की है। कन्नूर में भाजपा और संघ कार्यालय पर बम फेकने की घटना सामने आई है।

तिरुवनंतपुरम, कोल्लम, कोझिकोड, वायनाड और अलप्पुझा समेत विभिन्न जिलों में केरल राज्य सड़क परिवहन निगम (केएसआरटीसी) की बसों पर पथराव किया गया। कई बसें बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गईं। उनके शीशे टूट गए और सीट क्षतिग्रस्त हो गए। पल्लीमुक्कू में बाइक सवार पीएफआई समर्थकों ने दो पुलिसकर्मियों पर हमला किया। कन्नूर के मट्टनूर में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यालय पर पेट्रोल बम फेंकने की खबर मिली है।बताया जा रहा है की दो हमलावर पेट्रोल बम फेंककर भाग निकले। हमले में दफ्तर की खिड़की के शीशे टूट गए और दीवार को क्षति पहुंची है। हालांकि किसी के हताहत होने का समाचार नहीं मिला है। पुलिस घटना की जांच कर रही है।

कोर्ट ने लिया संज्ञान -


इसी बीच केरल हाईकोर्ट ने पीएफआई के इस बंद पर नाराजगी जताई है। हाईकोर्ट ने खुद संज्ञान लेते हुए पीएफआई के सदस्यों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। केरल हाईकोर्ट के पूर्व के आदेश के अनुसार बगैर इजाजत के राज्य में कोई बंद आयोजित नहीं कर सकता है।केरल पुलिस को निर्देश दिए कि वह बंद का समर्थन नहीं करने वाले नागरिकों और सरकारी संपत्तियों की सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम करे।साथ ही कहा की गिरफ्तारी बके विरोध में ऐसा प्रदर्शन उचित नहीं है। आरोपियों की ठीक से पहचान कर प्रकरण दर्ज किए जाएं।

कांग्रेस ने रोकी भारत जोड़ो यात्रा -


दूसरी और पीएफआई के बंद के ऐलान के साथ ही राहुल गांधी ने समर्थन ने अपनी भारत जोड़ो यात्रा रोक दी। भाजपा ने कांग्रेस पर तंज कसते हुए इसे बेहद शर्मनाक और घटिया बताया है।

15 राज्यों में छापे -

बता दें की एनआईए और ईडी ने कल गुरूवार को 15 राज्यों में संगठन के कार्यालयों और अन्य ठिकानों पर छापे मारे थे। जिसमें केरल-39, तमिलनाडु-16, कर्नाटक-12, आंध्र प्रदेश-7, तेलंगाना-1, उत्तर प्रदेश-2, राजस्थान-4, दिल्ली-2, असम-1, मध्य प्रदेश-1, महाराष्ट्र-4, गोवा-1, पश्चिम बंगाल-1, बिहार-1 और मणिपुर में 1 स्थान पर छापा मारा था। इस दौरान 100 से ज्यादा नेताओं व कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया था। ये संगठन टेरर फंडिंग और जिहादी गतिविधियों में शामिल है।

Updated : 23 Sep 2022 12:14 PM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top