Home > Lead Story > ओलंपिक : पीवी सिंधु ने अंतिम 16 में बनाई जगह, तीरंदाजी में प्रवीण को मिली जीत

ओलंपिक : पीवी सिंधु ने अंतिम 16 में बनाई जगह, तीरंदाजी में प्रवीण को मिली जीत

ओलंपिक : पीवी सिंधु ने अंतिम 16 में बनाई जगह, तीरंदाजी में प्रवीण को मिली जीत
X

टोक्यो। टोक्यो में चल रहे ओलंपिक का आज छटवां दिन है। भारत पदक तालिका में अब तक सिल्वर के अतिरिक्त अन्य मेडल नहीं जोड़ सका है। आज का दिन भारत के लिए मिला जुला रहा है। तीरंदाजी पर बैडमिंटन में जहां उम्मीद बंधी है, वहीँ महिला हॉकी टीम की हार ने निराश किया है।

पीवी सिंधु अंतिम 16 में -

भारत की स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिन्धु टोक्यो ओलंपिक के महिला बैडमिंटन के एकल वर्ग के नॉक आउट चरण में पहुँच गई हैं। उन्होंने अपने दूसरे ग्रुप मैच में हांगकांग की गयान यी चियुंग को 21-9,21-16 से हराया।

सिन्धु ने पहले सेट से ही आक्रमक खेल दिखाया और विरोधी खिलाड़ी पर बढ़त बनाए रखी। मैच के शुरुआती दौर में ही सिन्धु ने 11-5 के बड़े अंतर की बढ़त लेकर हांगकांग की खिलाड़ी का मनोबल तोड़ दिया। उन्होने कमाल की सर्विस की और कोर्ट एवं मैच पर अपना पूरा नियंत्रण बनाए रखा। पहला सेट सिन्धु ने बहुत ही आसानी से 21-9 से जीता।दूसरे सेट में सिन्धु को नगयान ने कुछ टक्कर दी पर वह वापसी करने में नाकाम रहीं। दूसरे सेट में सिन्धु ने नगयान को 21-16 से हरा दिया। सेट जीतते ही उन्होने मैच को अपने पक्ष में कर लिया।

तीरंदाजी में प्रवीण और तरुण दीप ने जीत दर्ज की -


तीरंदाज प्रवीण जाधव ने शानदार प्रदर्शन करते हुए व्यक्तिगत स्पर्धा में पहला मैच जीता। रूस ओलिंपिक कमेटी की तरफ से खेलने उतरे तीरंदाज गलसेन बजारजारोव को 6-0 से भारतीय स्टार ने मात दी।वहीँ तरुण दीप ने आज यूक्रेन के खिलाड़ी से मिली कड़ी टक्कर में जीत हासिल की। टाई ब्रेकर तक पहुंचे इस मुकाबले में भारतीय तीरंदाज ने 6-4 से जीत हासिल कर अगले दौर में जगह बनाई।

हॉकी टीम हारी -


भारतीय हॉकी महिला टीम को ब्रिट्रेन के हाथों 4-1 से हार का सामना करना पड़ा। ये भारतीय महिला टीम की लगातार तीसरी हार है। वह अभी तक एक भी मैच नहीं जीत पाई है। भारतीय टीम को गोल करने के कई मौके मिले लेकिन उन्हे सफलता नहीं मिल सकी। भारत के लिए शर्मिला देवी ने गोल का खाता मैच के 23वें में खोला उन्होने ये गोल पेनाल्टी कॉर्नर के जरिए किया। हैना मार्टिन ने ब्रिट्रेन के लिए 19वें मिनट में गोल करके 2-0 की बढ़त दिला दी।

दो क्वार्टर खत्म होने बाद ब्रिट्रेन 2-1 से आगे चल रहा था। भारत के पास वापसी का मौका पर भारतीय वापसी ना कर सकी। भारतीय डिफेंडर गेंद को सही तरीके से डिफेंड नही कर पाए। ब्रिट्रेन के लिए लिली ने 41वें और बाल्सडॉन ने 57वें मिनट गोल कर ब्रिट्रेन की जीत पर मोहर लगा दी। ब्रिट्रेन ने 4-1 से भारत पर एकतरफा जीत दर्ज की।




Updated : 2021-10-12T15:42:14+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top