Top
Home > Lead Story > लॉकडाउन बढ़ाने वाला भारत का पहला राज्य बना ओडिशा

लॉकडाउन बढ़ाने वाला भारत का पहला राज्य बना ओडिशा

लॉकडाउन बढ़ाने वाला भारत का पहला राज्य बना ओडिशा

भुवनेश्वर। देशभर में लॉकडाउन बढ़ने की चल रही चर्चाओं के बीच ओडिशा सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। राज्य की नवीन पटनायक सरकार ने लॉकडाउन की अवधि बढ़ाने का फैसला किया है। ओडिशा सरकार ने राज्य में 30 अप्रैल तक के लिए लॉकडाउन बढ़ाने की घोषणा की है। ऐसा करने वाला ओडिशा देश का पहला राज्य बन गया है।

ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक ने इस फैसले के बारे में जानकारी दी है। इसके साथ ही राज्य सरकार ने केंद्र से इस अवधि के दौरान ट्रेन और विमान सेवाएं नहीं शुरू करने की अपील की है।

ओडिशा सरकार का यह फैसला ऐसे वक्त में आया है, जब देशव्यापी लॉकडाउन को आगे बढ़ाने को लेकर केंद्र सरकार विचार कर रही है। हालांकि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को राजनीतिक दलों के साथ बातचीत में कहा कि 14 अप्रैल को लॉकडाउन हटाना संभव नहीं है। माना जा रहा है कि शनिवार को मुख्यमंत्रियों संग बैठक के बाद पीएम मोदी लॉकडाउन को लेकर अंतिम फैसला ले सकते हैं। लेकिन जिस तरह से राज्यों के अनुरोध आ रहे हैं, उससे यह संकेत मिल रहे हैं कि लॉकडाउन को बढ़ाया जाएगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना संकट पर विचार करने के लिए दूसरी बार राज्यों के मुख्यमंत्रियों की बैठक बुलाई है। बैठक 11 अप्रैल शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये होगी। माना जा रहा है इसी बैठक में लॉक डाउन के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अंतिम फैसला लेंगे। दरअसल, ये दूसरी बार होगा जब प्रधानमंत्री कोरोना वायरस के मसले पर सभी मुख्यमंत्रियों से सीधी वार्ता करेंगे। इससे पहले देश में 21 दिनों का लॉकडाउन लागू करने के बाद पीएम मोदी ने हर राज्य के सीएम से चर्चा की थी और कोरोना से निपटने की तैयारियों के बारे में जानकारी ली थी। वहीं, सरकार के सूत्रों ने बताया था कि कई राज्यों से अनुरोध मिलने के बाद सरकार लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाने पर विचार कर रही है।

ओडिशा में अब तक कोरोना वायरस के 45 मामले सामने आ चुके हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी नए आंकड़ों के मुताबिक, ओडिशा में कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्या 45 है। इनमें से दो लोगों का उपचार कर अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है, वहीं एक की मौत हो चुकी है।

Updated : 2020-04-09T13:29:49+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top