Home > Lead Story > दो देशों के बीच अनोखा युद्ध, घातक हथियार की बजाए कचरे के बैलून और लाऊड स्पीकर का इस्तेमाल

दो देशों के बीच अनोखा युद्ध, घातक हथियार की बजाए कचरे के बैलून और लाऊड स्पीकर का इस्तेमाल

North Korea vs South Korea : गुबारों में प्लास्टिक, टॉयलेट पेपर, सिगरेट बट आदि डालकर दूसरे देश में भेजा जा रहा है।

दो देशों के बीच अनोखा युद्ध, घातक हथियार की बजाए कचरे के बैलून और लाऊड स्पीकर का इस्तेमाल
X

North Korea vs South Korea : दो देशों के बीच अनोखा युद्ध

North Korea vs South Korea : आपने युद्ध के लिए मिसाइल और राकेट समेत मॉडर्न वारफेयर तकनीक का उपयोग करते देशों के बारे में सुना होगा। इन दिनों विश्व में कई देशों के बीच युद्ध चल भी रहा है। कई देशों में मनमुटाव भी हैं। इन सब के बीच दो देश बेहद अलग तरीके से युद्ध कर रहे हैं। इस युद्ध में न मिसाइल का उपयोग हो रहा है न गोला बारूद का। ये अजब - गजब युद्ध कचरे से भरे बैलून और लाउड स्पीकर से लड़ा जा रहा है। जिन दो देशों के बीच ये युद्ध चल रहा है उनका नाम है नार्थ कोरिया और साउथ कोरिया।

अब उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया के बीच दुश्मनी भी पुरानी है। एक देश में तानाशाही है तो दूसरा देश लोकतंत्र की राह पर है। दोनों देशों में सीमा विवाद भी है। कई समय से कचरे से भरे गुब्बारे दक्षिण कोरिया में परेशानी की वजह बने हुए हैं। हद हो सोमवार को हो गई। उत्तर कोरिया ने दक्षिण कोरिया में 300 से अधिक कचरे के गुब्बारे भेज दिए। इससे वहां रहने वाले लोगों को खासा परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। सोशल मीडिया पर इन कचरों के गुब्बारे की तस्वीर वायरल है।

अब इस कचरे से भरे गुब्बारे का जवाब दक्षिण कोरिया लाउड स्पीकर से दे रहा है। उत्तर कोरिया के खिलाफ लाउड स्पीकर से प्रचार किया जा रहा है ताकि वहां रहने वाली जनता को सच्चाई बताई जा सके। इसके जवाब में उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन की बहन किम यो जोंग ने सियोल को अपनी तनावपूर्ण सीमा पर प्रचार प्रसारण रोकने की चेतावनी दी।

उत्तर कोरिया गुबारों में प्लास्टिक, टॉयलेट पेपर, सिगरेट बट आदि रखकर दक्षिण कोरिया भेज रहा है। क्योंकि उत्तर कोरिया में तानाशाही है, प्रेस की स्वतंत्रता नहीं है इसलिए दक्षिण कोरिया ने लाउड स्पीकर से प्रचार करके जवाब देने की रणनीति अपनाई है। इस अजब - गजब युद्ध पर सभी की नजर बने हुए है।

Updated : 10 Jun 2024 9:34 AM GMT
Tags:    
author-thhumb

Gurjeet Kaur

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Top