Home > Lead Story > Kanchenjunga Express Accident के बाद एक्शन में मंत्री अश्विनी वैष्णव, दुर्घटना स्थल तक बाइक पर बैठ कर पहुंचे

Kanchenjunga Express Accident के बाद एक्शन में मंत्री अश्विनी वैष्णव, दुर्घटना स्थल तक बाइक पर बैठ कर पहुंचे

Kanchenjunga Express Accident : रेल हादसे की जांच के लिए एक रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव द्वारा एक टीम का गठन किया गया।

Kanchenjunga Express Accident
X

Kanchenjunga Express Accident के बाद एक्शन में मंत्री अश्विनी वैष्णव

Kanchenjunga Express Accident : पश्चिम बंगाल। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग में हुई रेल दुर्घटना का जायजा लेने पहुंचे। यहां उन्होंने न केवल घायलों से मुलाकात की बल्कि ग्राउंड जीरो पर जाकर राहत कार्य की समीक्षा भी की। जिस स्थान पर हादसा हुआ वहां चार पहिया वाहन के जाने का रास्ता नहीं था तो रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव बाइक पर सवार होकर ही दुर्घटना स्थल पर राहत कार्य की समीक्षा करने पहुंच गए। उनका यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है।

बता दें कि, पश्चिम बंगाल के न्यू - जलपाईगुड़ी में सियालदाह को जाने वाली कंचनजंगा एक्सप्रेस, मालगाड़ी से टकराने के कारण दुर्घटनाग्रस्त जो गई थी। इसके चलते कंचनजंगा एक्सप्रेस की बोगियां पटरी से उतर गई थीं। इस हादसे में अब तक 9 लोगों की मौत हो गई है वहीं 30 से अधिक लोग घायल हैं। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने इस हादसे में जान गंवाने वालों के परिजनों के लिए 10 लाख रुपए की आर्थिक सहायता की घोषणा की है। गंभीर रूप से घायलों को 2.5 लाख रुपए दिए जाएंगे वहीं जिन्हें मामूली चोट लगी है उन्हें 50 हजार रुपए की आर्थिक सहायता दिए जाने की घोषणा की गई है।

मेडिकल कॉलेज पहुंचे रेल मंत्री :

घायलों के स्वास्थ के बारे में जानने के लिए रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव सिलीगुड़ी के नॉर्थ बंगाल मेडिकल कॉलेज भी पहुंचे। यहां उन्होंने घायलों से मुलाकात की और डॉक्टर्स से भी घायलों के स्वास्थ के बारे में जाना। स्वास्थ मंत्री अश्विनी वैष्णव ने घायलों को हर संभव मदद देने का भी वादा किया।

रेल हादसे की जांच के लिए रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव (Railway Minister Ashwini Vaishnav) द्वारा जांच टीम का गठन किया गया। यह हादसा कैसे हुआ इस बात की जांच करके टीम रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी। प्रारंभिक रूप से इस हादसे के लिए ह्यूमन एरर को जिम्मेदार बताया जा रहा है।

Updated : 17 Jun 2024 3:22 PM GMT
Tags:    
author-thhumb

Gurjeet Kaur

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Top