Home > देश > देश ने 278 दिन में लगाई 1 अरब वैक्सीन, केंद्र ने राज्यों को दिए 103 करोड़ निःशुल्क डोज

देश ने 278 दिन में लगाई 1 अरब वैक्सीन, केंद्र ने राज्यों को दिए 103 करोड़ निःशुल्क डोज

गृहमंत्री शाह ने देशवासियों को दी बधाई

देश ने 278 दिन में लगाई 1 अरब वैक्सीन, केंद्र ने राज्यों को दिए 103 करोड़ निःशुल्क डोज
X

नईदिल्ली। केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत द्वारा 100 करोड़ कोरोना रोधी टीके लगाने की उपलब्धि हासिल करने को एक ऐतिहासिक और गौरवमयी क्षण बताते हुए इस अवसर पर पूरे देश को बधाई दी है।

शाह ने गुरुवार को ट्वीट कर कहा, "ऐतिहासिक व गौरवमयी क्षण! आज भारत ने 100 करोड़ से अधिक कोरोना वैक्सीन लगाने के लक्ष्य को प्राप्त कर नरेन्द्र मोदी के दूरदर्शी नेतृत्व व निरंतर प्रोत्साहन से एक ऐसा कीर्तिमान बनाया है, जिसने पूरे विश्व को नए भारत की अपार क्षमताओं से पुनः परिचित कराया है।"

केन्द्रीय गृह मंत्री ने इस उपलब्धि को हासिल करने में अपना योगदान देने वाले देश के सभी वैज्ञानिकों, शोधकर्ताओं और स्वास्थ्यकर्मियों का आभार प्रकट किया। उन्होंने कहा, "इस ऐतिहासिक उपलब्धि पर पूरे देश को बधाई देता हूँ। अनेक चुनौतियों को पार कर इस महायज्ञ में अपना योगदान देने वाले सभी वैज्ञानिकों, शोधकर्ताओं व स्वास्थ्यकर्मियों का आभार व हर व्यक्ति की सुरक्षा व स्वास्थ्य हेतु संकल्पित मोदी जी का अभिनन्दन करता हूं।"

103 करोड़, 05 लाख नि:शुल्क डोज दिए -

उल्लेखनीय है कि कोरोना के खिलाफ जंग में कारगर टीकाकरण अभियान में देश ने 100 करोड़ टीके लगाने का आंकड़ा पार कर लिया है। आज सुबह करीब पौने दस बजे देश में वैक्सीनेशन का आंकड़ा 100 करोड़ के पार पहुंच गया। इस मौके पर केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने भी देशवासियों को बधाई दी।केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक राज्यों एवं केन्द्र शासित प्रदेशों को अब तक 103 करोड़, 05 लाख टीके की खुराक नि:शुल्क उपलब्ध कराई जा चुकी है। राज्यों के पास अभी भी 10 करोड़, 85 लाख टीके की खुराक मौजूद है।

278 दिन में हासिल की उपलब्धि -

उल्लेखनीय है कि देश में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 16 जनवरी, 2021 को टीकाकरण अभियान की शुरुआत की थी। पिछले नौ महीने में देश में 100 करोड़ टीके की खुराक दी जा चुकी है। देश में अब तक 75 फीसदी वयस्क आबादी को टीके की एक खुराक और 30 फीसदी आबादी को दोनों खुराक दी जा चुकी हैं।

Updated : 2021-10-22T13:00:23+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top