Top
Home > Lead Story > देश के इन 27 जिलों से खुशखबरी, 20 अप्रैल से छूट

देश के इन 27 जिलों से खुशखबरी, 20 अप्रैल से छूट

- देश के 325 जिले कोरोना संक्रमण से दूर - ठीक होने वाले मरीजों का प्रतिशत 12.02 हुआ - कोरोना से मरने वालों का प्रतिशत 3.3 प्रतिशत

देश के इन 27 जिलों से खुशखबरी, 20 अप्रैल से छूट

नई दिल्ली। देश के कुछ राज्यों में जहां कोरोना के मामले तेजी से बढ़े हैं, वहीं कुछ स्थानों से अच्छी खबरें भी आ रही हैं। कोरोना प्रभावित देश के 27 जिले ऐसे हैं जहां पिछले 14 दिन में कोरोना का एक भी मामला सामने नहीं आया है। पुदुचेरी और माही में 28 दिन से कोरोना का कोई नया मामला सामने नहीं आया है। यानि ये जिले कोरोना मुक्त हैं।

केन्द्रीय स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार देश के 325 जिले कोरोना संक्रमण से दूर हैं। गुरुवार को स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि देश में कोरोना के मरीजों की संख्या के ठीक होने का प्रतिशत 12.02 प्रतिशत हो गया है। यानि लोग इस बीमारी से तेजी से ठीक हो रहे हैं। कोरोना से मरने वालों का प्रतिशत 3.3 प्रतिशत है।

लव अग्रवाल ने बताया कि देश में महाराष्ट्र का गोंडिया, छत्तीसगढ़ में राजनंद गांव, दुर्ग और बिलासपुर, कर्नाटक में देवनगरी, कोडागू तुमकुरू, उडिपी, गोवा में दक्षिणी गोवा, केरल में वायानाड औऱ कोटायम, मणिपुर में इंफाल, जम्मू और क्शमीर में राजौरी, मिजोरम में आईजोल, पदुचेरी में माही, पंजाब में एसबीएस नगर, बिहार में पटना, नालंदा और मुंगेर, राजस्थान में प्रतापगढ़, हरियाणा में पानीपत, सिरसा, रोहतक, उत्तराखंड में पौड़ी गढ़वाल और तेलंगाना में भद्रादरी कोथागुदेम जिलों में पिछले 14 दिनों से कोरोना का कोई नया मामला सामने नहीं आया है। यानि सरकारी प्रयासों के नतीजे दिखने लगे हैं। कोरोना की रोकथाम की योजनाएं कारगर साबित हो रही हैं। कोविड-19 के संक्रमण चक्र को तोड़ने में कामयाब होने लगे हैं।

लव अग्रवाल ने कहा कि देश में छोटे बच्चों और गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण कार्यक्रम भी सुचारू रूप से चलने चाहिए। इसके साथ किडनी के रोगियों के लिए डायलेसिस जैसी जरूरी सेवाएं, एचआईवी और अन्य पुरानी बीमारियों के इलाज के लिए जिला स्तर के स्वास्थ्य केन्द्रों में एक दिन निर्धारित किया जाना चाहिए। साथ ही इन सभी स्वास्थ्य केन्द्रों पर सोशल डिस्टेंसिंग और अन्य सावधानी भी बरतना सुनिश्चित होना चाहिए।

Updated : 16 April 2020 2:50 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top