Top
Home > Lead Story > गंगा के रास्ते प्रियंका की मोदी के गढ़ पर चढ़ाई

गंगा के रास्ते प्रियंका की मोदी के गढ़ पर चढ़ाई

गंगा के रास्ते प्रियंका की मोदी के गढ़ पर चढ़ाई
X

मीरजापुर। कार्यकर्ताओं में जोश भरने के लिए पूर्वांचल के दौरे पर निकली कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव एवं पूर्वांचल प्रभारी प्रियंका वाड्रा 19 मार्च को जलमार्ग से मीरजापुर पहुचेंगी। यहां मां विंध्यवासिनी का दर्शन कर राजनैतिक हालात को समझते हुए चुनावी रणनीति का मंत्र कार्यकर्ताओं को देंगी।

चुनावी राजनीति के तहत कांग्रेस के रणनीतिकारों ने प्रियंका वाड्रा को पहले नरेंद्र मोदी के गृह राज्य गुजरात भेजा और अब गंगा नदी के रास्ते प्रयागराज के संगम से मीरजापुर होते हुए काशी पहुचेंगी।

प्रियंका की उथल-पुथल मचाने की रणनीति

राजनीतिक विश्लेषक कहते हैं कि कांग्रेस के रणनीतिकार प्रियंका को बनारस में न उतारकर गंगा नदी के रास्ते मतदाताओं के एक लंबे बेल्ट में उथल-पुथल मचाने की रणनीति पर काम कर रहे हैं। जिस प्रकार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाराणसी लोकसभा सीट पर अपनी विजय के लिए मीरजापुर जनपद को साधा है और केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल के माध्यम से जनपद के विकास के सारे रास्ते खोल रखे हैं।

इंदिरा गांधी भी नंगे पांव त्रिकोण परिक्रमा की थीं

गौरतलब है कि मीरजापुर के मतदाता दस्यु सुंदरी फूलन देवी को दो बार संसद पहुंचा चुके हैं। कांग्रेस भी यहां की महिलाओं में अपना घुसपैठ बनाने के लिए प्रियंका को भेजा है। पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी चुनाव में पराजय के बाद मीरजापुर आकर मां विंध्यवासिनी की विशेष पूजा-अर्चना कर नंगे पांव त्रिकोण परिक्रमा भी की थी और अगले चुनाव में वे फिर सत्ता में आ गई।

मृत प्राय कांग्रेस को संजीवनी देने के लिए प्रियंका भी जनपद आगमन के बाद सर्वप्रथम मां विंध्यवासिनी की विशेष पूजा कर गंगा किनारे स्थित कुछ खास देवस्थलों पर भी जाएंगी। लोकतंत्र में मतदाता के मन को जो अपने पक्ष में कर ले, उसकी जीत तय है। कांग्रेस प्रियंका के चेहरे को खासकर पूर्वांचल में उतारी है। मतदाता इसे किस रूप में लेते हैं, यह तो समय ही बताएगा।

Updated : 18 March 2019 3:42 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top