Top
Home > Lead Story > सरकार-किसानों के बीच मीटिंग खत्म, किसान बोले - जारी रहेगा आंदोलन, जानें बैठक में क्या-क्या हुआ

सरकार-किसानों के बीच मीटिंग खत्म, किसान बोले - जारी रहेगा आंदोलन, जानें बैठक में क्या-क्या हुआ

सरकार-किसानों के बीच मीटिंग खत्म, किसान बोले - जारी रहेगा आंदोलन, जानें बैठक में क्या-क्या हुआ
X

नई दिल्ली। केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों को लेकर दिल्ली के विज्ञान भवन में सरकार और किसान संगठनों के बीच चली बैठक मंगलवार शाम को खत्म हो गई। हालांकि, बैठक में कोई भी नतीजा नहीं निकला है।

हम आपको बता दें कि दो घंटे चले पहले दौर में किसान प्रतिनिधियों के सामने केंद्र ने मिनिमम सपोर्ट प्राइज पर प्रेजेंटेशन दिया। उनके सामने प्रस्ताव रखा कि नए कानूनों पर चर्चा के लिए कमेटी बनाई जाए, इसमें केंद्र, किसान और एक्सपर्ट शामिल हों। रिपोर्ट्स के मुताबिक, किसानों ने ये पेशकश ठुकरा दी है। एक ब्रेक के बाद फिर मीटिंग शुरू हुई, लेकिन ये कुछ ही देर में खत्म हो गई। अब अगली बातचीत 3 दिसंबर को होगी।

>> 3 बजे से शाम 5 बजे तक पहले दौर की बातचीत हुई। इसके बाद करीब 6 बजे फिर चर्चा शुरू हुई और करीब 30 मिनट में खत्म हो गई।

>> CAA के खिलाफ शाहीन बाग के प्रदर्शन में शामिल हुईं 82 साल की बिल्किस बानो को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। वे किसानों के प्रदर्शन में शामिल होने सिंघु बॉर्डर पर पहुंची थीं।

>> कृषि कानूनों के खिलाफ विभिन्न राज्यों के कई किसान और किसान संगठन लगातार विरोध कर रहे हैं, पंजाब-हरियाणा और यूपी के किसान विरोध कर लगातार आंदोलन छेड़े हुए हैं। वहीं गाजीपुर बॉर्डर पर भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले आए किसान जमे हुए हैं। ऐसे में राकेश टिकैत विज्ञान भवन में हो रही बैठक के लिए रवाना हो गए हैं।

>> शाहीन बाग की ऐक्टिविस्ट बिलकिस दादी ने कहा- हम किसानों की बेटियां हैं, हम आज किसानों के प्रोटेस्ट का समर्थन करने जाएंगे। हम अपनी आवाज उठाएंगे, सरकार को हमारी बात सुननी चाहिए।

>> किसानों के मुद्दे को लेकर सरकार और किसान नेताओं के बीच बैठक हो रही है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह इस बैठक की अगुवाई कर रहे हैं। किसानों के करीब 35 प्रतिनिधि इस बैठक में शामिल होने के लिए विज्ञान भवन पहुंचे हैं। ऐसी उम्मीद जताई जा रही है कि इस बैठक से जरूर कोई सकारात्मक हल निकलेगा।

>> भीम आर्मी के चीफ चंद्रशेखर आजाद भी दिल्ली-गाजियाबाद के गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों के प्रोटेस्ट में शामिल हुए।

>>बुराड़ी में निरंकारी समागम मैदान में कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं के बीच तू तू- मैं मैं। दोनों पक्ष एक दूसरे पर किसानों के लिए की गई व्यवस्था का क्रेडिट लेने का आरोप लगा रहे हैं।

>> किसानों के मुद्दे को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक बार फिर मोदी सरकार पर निशाना साधा। कहा- अहंकार की कुर्सी से उतरकर सोचिए और किसान का अधिकार दीजिए।

>> किसानों के साथ बैठक से पहले कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा- नए कानून में भी एमएसपी की व्यवस्था जारी है।

कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि आज बहुत अच्छे माहौल में बैठक हुई और ये तय हुआ कि 3 दिसंबर को फिर चर्चा होगी। हमने किसानों से कहा था कि कमेटी बना दें बातचीत के लिए और वो अपना आंदोलन खत्म कर दें। आंदोलन खत्म करने का फैसला किसानों का होगा। बैठक में तोमर के साथ वाणिज्य मंत्री सोम प्रकाश और रेल मंत्री पीयूष गोयल मौजूद थे।

Updated : 1 Dec 2020 1:50 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top