Top
Home > राज्य > अन्य > केंद्र से वार्ता में किसानों के प्रतिनिधिमंडल में हर राज्य की हिस्सेदारी रहेगी

केंद्र से वार्ता में किसानों के प्रतिनिधिमंडल में हर राज्य की हिस्सेदारी रहेगी

केंद्र से वार्ता में किसानों के प्रतिनिधिमंडल में हर राज्य की हिस्सेदारी रहेगी
X

चंडीगढ़/वेब डेस्क। कृषि कानूनों पर केंद्र सरकार से बातचीत करने के लिए गुरुवार को दोपहर में गये प्रतिनिधिमंडल में 40 से ज्यादा किसान संगठनों के प्रतिनिधि हैं। धरना स्थल सिंघु बॉर्डर से किसानों ने पूरे जोश के साथ प्रतिनिधिमंडल को रवाना किया। किसानों का प्रतिनिधित्व कर रहे किसान संगठनों के पदाधिकारियों ने भरोसा दिलाया कि केंद्र सरकार के समक्ष कृषि कानूनों की कमियों को बिंदुवार रखेंगे। केंद्र सरकार से बातचीत के लिए पहले दिन 35 किसान संगठनों ने हिस्सा लिया था, मगर आज के प्रतिनिधिमंडल में हर राज्य की हिस्सेदारी है।

गुरुवार को केंद्र सरकार से बातचीत करने के लिए पंजाब की क्रांतिकारी किसान यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष डॉ. दर्शनपाल, जमहूरी किसान सभा के महासचिव कुलवंत सिंह, भारतीय किसान सभा के अध्यक्ष बूटर सिंह, कुलहिंद किसान सभा के महासचिव बलदेव सिंह, कीति किसान यूनियन के अध्यक्ष निरभाई सिंह, पंजाब किसान यूनियन के अध्यक्ष रूलदू सिंह मानसा, कुल हिंद किसान सभा के महासचिव मेजर सिंह, किसान संघर्ष समिति के अध्यक्ष इंद्रजीत सिंह, जय किसान आंदोलन से गुरबख्श सिंह, किसान मजदूर संघर्ष कमेटी के अध्यक्ष सतनाम सिंह, किसान संघर्ष समति के अध्यक्ष कंवलप्रीत सिंह, भारतीय किसान यूनियन एकता-उग्राहा के अध्यक्ष जोगिंद्र सिंह उग्राहा, भारतीय किसान यूनियन-क्रांतिकारी के अध्यक्ष सुरजीत सिंह फूल गये हैं।

इसके अलावा प्रतिनिधिमंडल में भारतीय किसान यूनियन सिधुपुर के प्रदेशाध्यक्ष जगजीत सिंह दालेवाल, भारतीय किसान यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष बलबीर सिंह राजेवा, भारतीय किसान यूनियन दाओबा के महासचिव सतनाम सिंह साहनी, भारतीय किसान यूनियन-मानसा के अध्यक्ष बोध सिंह मानसा, इंडिया फार्मर एसोसिएशन आफ इंडिया के अध्यक्ष सतनाम सिंह बेहरू, भारतीय किसान मंच के अध्यक्ष बूटा सिंह शादीपुर, लोक भलाई इंसाफ वेलफेयर सोसायटी से बलदेव सिंह सिरसा, दाओबा किसान समिति से जगबीर सिंह टाडा, दाओबा किसान संघर्ष कमेटी से मुकेश चंद्रा, गन्ना संघर्ष समिति के अध्यक्ष सुखपाल सिंह, आजाद किसान कमेटी दाओबा से हरपाल, भारतीय किसान यूनियन-मान से बलदेव सिंह को भी शामिल किया गया है।

सरकार से वार्ता करने गये प्रतिनिधिमंडल में किसान बचाओ मोर्चा से कृपाल सिंह नाथुवाला, भारतीय किसान यूनियन लखेवाल से महासचिव हरिंदर सिंह, कुल हिंद किसान फेडरेशन से प्रेम सिंह भगू, कुल हिंद किसान फेडरेशन से किरणजीत सेखों, भारतीय किसान यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी, कुल हिंद संघर्ष तालमेल कमेटी से हनान मोला, सर्व हिंद राष्ट्रीय किसान महासंघ से शिव कुमार कक्का, भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष राकेश टिकैत, भाकियू प्रदेशाध्यक्ष हरपाल सिंह, महिला किसान अधिकार मंच से कविता, भाकियू प्रदेशाध्यक्ष रिषीपाल तथा राष्ट्रीय किसान महासंघ से अभिमन्यु कोचर को भी शामिल किया गया है।

Updated : 2020-12-03T17:09:22+05:30
Tags:    

Swadesh News

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top