Top
Home > Lead Story > बिहार चुनाव की तारीखों का ऐलान, 28 अक्टूबर, 3 और 7 नवंबर को वोटिंग, 10 को रिजल्ट

बिहार चुनाव की तारीखों का ऐलान, 28 अक्टूबर, 3 और 7 नवंबर को वोटिंग, 10 को रिजल्ट

बिहार चुनाव की तारीखों का ऐलान, 28 अक्टूबर, 3 और 7 नवंबर को वोटिंग, 10 को रिजल्ट
X

नई दिल्ली। बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के लिए तारीखों का ऐलान हो गया। बिाहर में इस बार तीन चरणों में विधानसभा चुनाव होंगे। बिहार में विधानसभा चुनाव की शुरुआत 28 अक्टूबर की वोटिंग से शुरू होगी और सात नवंबर को अंतिम चरण की वोटिंग होगी। 10 नवंबर को बिहार विधानसभा चुनाव के नतीजे सामने आ जाएंगे। चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि 28 अक्टूबर को पहले चरण की वोटिंग, 3 नवंबर को दूसरे चरण की वोटिंग और 7 नवंबर को तीसरे चरण की वोटिंग होगी। इसके बाद 10 नवंबर को बिहार विधानसभा चुनाव के नतीजे आएंगे। बिहार की 243 सदस्यीय विधानसभा का कार्यकाल 29 नवम्बर को समाप्त होगा।

>> चुनाव आयोग ने कहा कि बिहार चुनाव तीन चरणों में होंगे। पहले चरण में 71 विधानसभा सीटों के लिए वोटिंग होगी। दूसरे चरण में 91 विधानसभा सीटों के लिए वोटिंग और तीसरे चरण में 78 विधानसभा सीटों के लिए वोटिंग होगी।

>> चुनाव आयोग ने कहा कि जहां पर जरूरत होगी और मांग की जाएगी, वहां पोस्टल बैलेट की व्यवस्था की जाएगी। चुनाव प्रचार सिर्फ वर्चुअल होगा और नामांकन भी ऑनलाइन भरे जा सकेंगे। इसके अलावे, राजनीतिक दलों को के लिए यह अनिवार्य होगा कि वे वेबसाइट पर कैंडिडेट्स के खिलाफ अपराधिक मामलों की जानकारी दें। कैंडिडेट्स को अखबार में भी इसकी जानकारी देनी होगी। सोशल मीडिया के दुरुपयोग पर कार्रवाई की जाएगी।

>> चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने साफ कर दिया कि कोरोना की वजह से एक बार में एक साथ पांच से ज्यादा लोग किसी के घर जाकर प्रचार नहीं कर पाएंगे। विधानसभा चुनाव में उम्मीदवार समेत कुल 5 लोग ही डोर टू डोर कैंपेन में हिस्सा लेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि चुनावी कैंपेन के दौरान पब्लिक गैदरिंग्स में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा।

>> चुनाव आयोग ने बताया कि इस बार पार्टियों और उम्मीदवारों को वर्चुअल चुनाव प्रचार होगा। कोरोना की वजह से बड़ी- बड़ी जनसभाएं नहीं की जा सकेंगी। इसके अलावा, नॉमिनेशन के दौरान किसी भी उम्मीदवार के साथ दो से अधिक गाड़ियां नहीं जा सकतीं।

>> चुनाव आयुक्त अरोड़ा ने कहा कि इस बार वोटिंग का समय बढ़ाया जाएगा। बिहार चुनाव में वोट डालने के लिए एक घंटा अधिक वक्त रखा गया है। यानी सुबह सात से शाम 6 बजे तक मतदान होगा। हालांकि, नक्सल प्रभावित इलाकों में ऐसा नहीं होगा। इसके अलावा, कोरोना मरीज अंतिम के घंटे में वोट डाल पाएंगे

>> चुनाव आयुक्त अरोड़ा ने कहा कि कोरोना को देखते हुए 6 लाख पीपीई किट राज्य चुनाव आयोग को दी जाएंगी। इसके अलावा, चुनाव के दौरान 46 लाख से अधिक मास्क, साथ लाख हैंडि सैनिटाइजर का इस्तेमाल किया जाएगा।

>> मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि कोरोना के चलते नए सुरक्षा मानकों के तहत चुनाव होंगे। पोलिंग बूथ पर मतदाताओं की संख्या घटाई जाएगी। एक बूथ पर एक हजार मतदाता होंगे। साथ ही बिहार चुनाव में इसबार एक लाख से ज्यादा पोलिंग स्टेशन होंगे। उन्होंने कहा कि चुनाव नागरिकों का लोकतांत्रिक अधिकार है। इसलिए चुनाव कराने जरूरी हैं।

>>मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि बिहार चुनाव देश के सबसे बड़े राज्यों में है और ये चुनाव कोरोना काल का सबसे बड़ा चुनाव है। इसे लेकर काफी मंथन किया गया।

Updated : 2020-09-25T13:46:39+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top