Home > Lead Story > Crime Story : टुकड़ों में महिला की लाश, दो राज्यों की पुलिस जांच में जुटी, बड़ी प्लानिंग से की हत्या

Crime Story : टुकड़ों में महिला की लाश, दो राज्यों की पुलिस जांच में जुटी, बड़ी प्लानिंग से की हत्या

Crime Story : पुलिस, रेलवे स्टेशन पर काम करने वाले कर्मचारियों से पूछताछ कर रही है।

Crime Story : टुकड़ों में महिला की लाश, दो राज्यों की पुलिस जांच में जुटी, बड़ी प्लानिंग से की हत्या
X

Crime Story : टुकड़ों में महिला की लाश, दो राज्यों की पुलिस जांच में जुटी, बड़ी प्लानिंग से की हत्या

Crime Story : इंदौर, मध्यप्रदेश। एक ट्रेन, बोरी और सूटकेस में महिला का कटा हुआ शव और सीसीटवी कैमरा...यही वो तीन बिंदु है जिसे समझने के लिए दो राज्यों की पुलिस लग गई है। इस पूरे हत्याकांड से एक बात तो साफ है आरोपी ने बड़ी ही प्लानिंग से महिला की हत्या की थी। पूरा मामला एक पैसेंजर ट्रेन से शुरू हुआ था जिसमें महिला के शव के टुकड़े बरामद हुए। आइये जानते हैं इस पूरी क्राइम स्टोरी के बारे में विस्तार से...।

दरअसल महू से इंदौर को जाने वाली पैसेंजर ट्रेन में एक महिला के शव के टुकड़े मिले जो बोरी में बंद थे। इसी कोच में एक सूटकेस भी मिला जिसमें शव के दूसरे हिस्से थे। यूँ बोरी और सूटकेस में शव मिलने की सूचना पुलिस और जीआरपी को दी गई। जब पुलिस ने जांच की तो पाया कि, महिला के हाथ - पैर गायब हैं। लम्बे समय तक स्टेशन और ट्रेन की तलाशी ली गई लेकिन कुछ बरामद नहीं हुआ।

इसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। पता चला कि, 24 घंटे पहले ही महिला को मारा गया है। इसके बाद धारदार हथियार से शव को काटा गया। अब तक पुलिस महिला को पहचान नहीं पाई थी। न तो इस महिला का नाम पता था न कोई पहचान। फिर जानकारी सामने आई कि, ऋषिकेश रेलवे स्टेशन पर खड़ी इंदौर - ऋषिकेश योगनगरी एक्सप्रेस कोच में मानव शरीर के टुकड़े मिले हैं। ये टुकड़े किसी और के नहीं बल्कि उसी महिला के थे जिसके शरीर का निचला और ऊपरी हिस्सा महू से इंदौर को जाने वाली पैसेंजर ट्रेन में मिला था।

अब यहां पुलिस को एक अहम सुराग हाथ लगा। ऋषिकेश योगनगरी एक्सप्रेस कोच में जो हिस्से मिले उसमें महिला के हाथ और पैर थे। यही था असली सुराग। महिला के हाथ पर दो नाम गूदे मिले। एक नाम था मीराबेन और गोपालभाई। पुलिस अब इन दो नामों से इस हत्या की गुत्थी को सुलझाने की कोशिश कर रही है। नाम से अनुमान लगाया जा रहा है कि, यह शव किसी गुजराती महिला का है।

पुलिस, रेलवे स्टेशन पर काम करने वाले कर्मचारियों से पूछताछ कर रही है। लक्ष्मीबाई स्टेशन जहां से ट्रेन निकली उसकी भी जांच की जा रही है। उम्मीद थी कि, यहां लगे सीसीटीवी कैमरा से कुछ मदद मिलेगी लेकिन यहां पता चला कि, स्टेशन पर तो कैमरा ही नहीं है। इस पूरी वारदात से यह बात तो स्पष्ट कि, आरोपी ने बड़ी प्लानिंग से हत्या की है। पहले तो महिला का हाथ दूसरी ट्रेन कोच में रखा जिससे तुरंत महिला का नाम पता न लग सके फिर एक ऐसे स्टेशन से शव को ट्रेन में रखा जहां सीसीटीवी ही नहीं था। अब पुलिस के सामने इस केस को सुलझाने की चूनौती है लेकिन दो नाम जो महिला के हाथ पर गुदे हुए थे उनसे इस केस को नई राह मिल सकती है।

Updated : 11 Jun 2024 3:53 AM GMT
Tags:    
author-thhumb

Gurjeet Kaur

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Top