Home > Lead Story > मुंबई में मिला था कोरोना का XE वेरिएंट, स्वास्थ्य मंत्री ने बताया क्या है सच ?

मुंबई में मिला था कोरोना का XE वेरिएंट, स्वास्थ्य मंत्री ने बताया क्या है सच ?

मुंबई में मिला था कोरोना का XE वेरिएंट, स्वास्थ्य मंत्री ने बताया  क्या है सच ?
X

मुंबई। महाराष्ट्र के मुंबई में बुधवार को कोरोनावायरस के एक्स ई वेरिएंट मिलने की पुष्टि हुई थी। जिसके बाद देश भर में चिंता बढ़ गई थी। अब इस मामले में महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे का बयान सामने आया है। उनका कहना है की मुंबई में कोरोना का नया वेरिएंट एक्स ई पाया गया है, लेकिन इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। इसलिए इससे घबराने की जरूरत नहीं है। स्वास्थ्य मंत्री के साथ उपमुख्यमंत्री अजीत पवार भी मौजूद थे।


राजेश टोपे तथा अजीत पवार ने मुंबई में गुरुवार को फिट इंडिया कार्यक्रम का उद्घाटन किया। इसके बाद राजेश टोपे ने पत्रकारों को बताया कि मुंबई नगर निगम ने कल कहा था कि शहर में कोरोना का एक्स ई और कॉपी वेरिएंट का संक्रमित पाया गया है लेकिन इस बात की पुष्टि नहीं हुई है। एनआईबी की रिपोर्ट के बाद ही इस वेरिएंट की सच्चाई के बारे में पता चल सकेगा। कोरोना का नया एक्स ई वेरिएंट का संसर्ग कोरोना वेरिएंट से दस गुना तेजी से प्रसारित होता है।

स्वास्थ्य मशीनरी चुस्त

राजेश टोपे ने कहा कि कोरोना से पहले राज्य में स्वास्थ्य मशीनरी इतनी सक्षम नहीं थी, लेकिन कोरोना कालखंड के दौरान स्वास्थ्य मशीनरी ने चुस्त-दुरुस्त होकर बेहतर काम किया है। अब कोरोना पूरी तरह नियंत्रण में है इसलिए मास्क लगाने पर प्रतिबंध हटा दिया गया है।

XE वेरिएंट -

बता दें की एक्सई वेरिएंट वाली 50 वर्षीय महिला 10 फरवरी को दक्षिण अफ्रीका से भारत आई थी। 27 फरवरी को कोरोना के लिए टेस्ट किया गया। उसके सैंपल को डब्ल्यूजीएस (संपूर्ण जीनोम अनुक्रमण) के लिए कस्तूरबा अस्पताल केंद्रीय प्रयोगशाला में भेजा गया था। जिसमें प्रारंभिक जांच में एक्सई वेरिएंट की पुष्टि हुई। बताया जा रहा है की महिला में कोई लक्षण नहीं थे। दूसरी जांच में निगेटिव आई है।


Updated : 2022-04-09T11:48:27+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top