Top
Home > Lead Story > कांग्रेस में चंदे के धंधे का खुलासा, नाथ पर लटकी तलवार!

कांग्रेस में चंदे के धंधे का खुलासा, नाथ पर लटकी तलवार!

नरोत्तम मिश्रा ने कमलनाथ पर साधा निशाना

कांग्रेस में चंदे के धंधे का खुलासा, नाथ पर लटकी तलवार!
X

भोपाल/वेब डेस्क। अप्रैल 2019 मे मध्यप्रदेश में आयकर विभाग की छापेमारी के मामले में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। दरअसल देश के एक प्रतिष्ठित इलैक्ट्रोनिक मीडिया हाउस ने इस बात का खुलासा किया था कि आयकर विभाग ने इस छापेमारीसे संबंधित 408 पेज का एक दस्तावेज तैयार किया है। इसमें मध्य प्रदेश से 2016 से 2019 तक अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के दिल्ली मुख्यालय 106 करोड़ पर भेजे जाने के सबूत मिले हैं। जिसके बाद अब आयकर विभाग इस मामले की जांच कर रहा है। वही इस बड़े खुलासे के बाद मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने पार्टी सहित कमलनाथ पर निशाना साधा और कहा है कि आखिर कमलनाथ का सच सामने आ ही गया।

रिपोर्ट में क्या है?

दरअसल रिपोर्ट के मुताबिक उसके पास आयकर विभाग की 408 पन्ने का स्रोत मौजूद है। जिससे पता चला है कि 2016 से 2019 के बीच में नई दिल्ली के अकबर रोड स्थित कांग्रेस मुख्यालय में करीबन 106 करोड रूपए की बेहिसाब नगदी के लेनदेन किए गए हैं। यह राशि बारी-बारी से कई किश्तों में पार्टी मुख्यालय पहुंची है। इतना ही नहीं इलैक्ट्रोनिक मीडिया हाउस यह भी दावा किया कि 408 पन्ने के स्रोत में 13 फरवरी 2019 से 4 अक्टूबर के बीच 74 करोड़ 62 हजार रूपए की राशि की लेनदेन पार्टी मुख्यालय में की गई है। वही इससे पहले अगस्त 2016 से सितंबर 2016 के बीच पार्टी मुख्यालय में 26 करोड़ 50 लाख रुपए पार्टी मुख्यालय पहुंचाए गए थे। इस लेनदेन में एक बड़ा खुलासा और हुआ है। जहां 27 फरवरी 2019 को 5.50 करोड़ रूपए, 28 फरवरी 2019 को 3.50 करोड़ रूपए पार्टी मुख्यालय पहुंचे हैं। वही 24 अप्रैल 2019 को 5 करोड़ 45 लाख रुपए की एक और क़िस्त अकबर रोड स्थित कांग्रेस मुख्यालय भेजे गए थे। वही कई बड़ी रकम आम चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस मुख्यालय पहुंचे थे।

नरोत्तम ने कांग्रेस को निशाने पर लिया

खुलासे के बाद मध्य प्रदेश के गृहमंत्री डॉक्टर नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि हम तो पहले से ही कहते रहे हैं कि कमलनाथ सरकार दलालों की सरकार थी और वल्लभ भवन को दलालों का अड्डा बना दिया था । नरोत्तम ने कमलनाथ की तुलना महमूद गजनबी से करते हुए कहा कि जिस प्रकार वह देश को लूट के ले गया उसी प्रकार कमलनाथ मध्य प्रदेश का पूरा पैसा राहुल गांधी के विदेशी यात्राओं और गांधी परिवार की वेलफेयर के लिए ले गये। नरोत्तम ने कहा है कि आईटी विभाग से संपर्क करके विधि विशेषज्ञों की राय लेकर इस मामले को राज्य आर्थिक अपराध अनुसंधान कार्य सौंपा जा सकता है । सरकार के इस मामले में कड़ी कार्रवाई करने का मन बना चुकी है और आने वाले समय में कमलनाथ की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। वहीं गाँधी परिवार पर वार करते हुए गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि अब पता चला कि अपनी कुर्सी पक्की करने के लिए आपने प्रदेश की जनता के हक का पैसा गांधी परिवार की मंडली पर जमकर न्योछावर किया है।

भाजपा ने घेरा

फिर दूसरी तरफ भाजपा ने कांग्रेस को घेरने का काम शुरू कर दिया है। भाजपा ने कहा कि 2016 में जब नोटबंदी लागू की गई थी। कांग्रेस पार्टी ने लगातार इसकी आलोचना की। अब पार्टी मुख्यालय में आए इतनी बड़ी रकम का जवाब तो कांग्रेस को देना ही होगा। इतना ही नहीं भाजपा ने यह भी कहा है कि गांधी परिवार पैसे के प्रति लालच और भूख से लबरेज है। वहीं पार्टी अध्यक्ष होने के नाते सोनिया गांधी को यह बताना होगा कि इतनी बड़ी रकम पार्टी मुख्यालय पहुंचने का कारण क्या है।

Updated : 2020-11-25T08:30:43+05:30
Tags:    

Swadesh News

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top