Top
Home > Lead Story > आखिरकार कांग्रेस ने सत्यव्रत चतुर्वेदी को दिखाया बाहर का रास्ता

आखिरकार कांग्रेस ने सत्यव्रत चतुर्वेदी को दिखाया बाहर का रास्ता

आखिरकार कांग्रेस ने सत्यव्रत चतुर्वेदी को दिखाया बाहर का रास्ता
X

भोपाल। मध्यप्रदेश में चुनावी घमासान जारी है। प्रदेश की दोनों प्रमुख पार्टियों के लिए टिकट नहीं मिलने से नाराज बागी नेता परेशानी का सबब बने हुए हैं। भाजपा ने तो पार्टी से बगावत करने वालों को पहले भी पार्टी से निष्कासित कर दिया था, अब कांग्रेस ने भी सोमवार को पार्टी के वरिष्ठ नेता सत्यव्रत चतुर्वेदी को निष्कासित कर दिया है। उन्होंने अपने बेटे के लिए टिकट की मांग की थी और टिकट नहीं मिलने पर उन्होंने बेटे को दूसरी पार्टी का टिकट दिलवाया और कांग्रेस के खिलाफ ताल ठोंककर उसका प्रचार भी कर रहे हैं। इसीलिए कांग्रेस ने यह कार्रवाई की है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सत्यव्रत चतुर्वेदी ने छतरपुर जिले की राजनगर विधानसभा सीट से अपने बेटे नितिन चतुर्वेदी के लिए टिकट की मांग की थी, लेकिन कांग्रेस ने यहां से उन्हें टिकट नहीं देते हुए इस सीट से दो बार के विधायक कुंवर विक्रम सिंह नातीराजा को उम्मीदवार बनाया। इससे सत्यव्रत चतुर्वेदी नाराज हो गए और पार्टी से बगावत करते हुए उन्होंने बेटे नितिन को समाजवादी पार्टी के टिकट दिलवा दिया और ताल ठोककर कहा कि कांग्रेस के खिलाफ चुनाव प्रचार भी शुरू कर दिया। इसके बावजूद कांग्रेस ने उन्हें अपने स्टार प्रचारकों की सूची में शामिल कर दिया। इस पर प्रतिक्रिया देते हुए सत्यव्रत चतुर्वेदी ने कहा था कि कांग्रेस ने उनके साथ धोखा किया है। पार्टी ने मुझे सम्मान नहीं दिया। अब मैं अपने बेटे का चुनाव प्रचार कर रहा हूं, तो मुझे स्टार प्रचारक बना रहे हैं, ये भांग खाए लोग हैं। मैं अपने बेटे नितिन के लिए समाजवादी पार्टी का प्रचार कर रहा हूं, कांग्रेस आलाकमान को अपनी गिरेबां में झांक मेरे ऊपर कार्रवाई करनी चाहिए। मैं बेटे के लिए में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ मंच भी साझा करूंगा। करीब एक सप्ताह के बाद कांग्रेस ने सोमवार को उन्हें पार्टी से निष्कासित कर दिया है।

Updated : 2018-11-25T00:15:05+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top