Home > Lead Story > 'नौकरी का झांसा देकर मुजफ्फरनगर बुलाया फिर बंधक बनाकर किया रेप' - बिहार में फ्रॉड कॉल फर्म का भांडाफोड़

'नौकरी का झांसा देकर मुजफ्फरनगर बुलाया फिर बंधक बनाकर किया रेप' - बिहार में फ्रॉड कॉल फर्म का भांडाफोड़

बिहार में फ्रॉड कॉल फर्म का भंडाफोड़ : इन आरोपियों के चंगुल से भागी एक पीड़िता ने अपनी आपबीती सुनाई।

नौकरी का झांसा देकर मुजफ्फरनगर बुलाया फिर बंधक बनाकर किया रेप - बिहार में फ्रॉड कॉल फर्म का भांडाफोड़
X

'नौकरी का झांसा देकर मुजफ्फरनगर बुलाया फिर बंधक बनाकर किया रेप' - बिहार में फ्रॉड कॉल फर्म का भांडाफोड़

बिहार। फ्राड कॉल फार्म कैसे लोगों को अपने फेक कॉल का शिकार बनाती है यह बात तो सभी को पता है लेकिन बिहार से जो मामला सामने आया है उससे उजागर होता है कि, कैसे ऐसे नकली फार्म की आड़ में आरोपी, महिलाओं का यौन उत्पीड़न करते हैं। बिहार में लड़कियों को अच्छी नौकरी का लालच देकर मुजफ्फरनगर बुलाया गया फिर उन्हें महीनों बंधक बनाकर रखा गया। इतना ही नहीं जब इनमें से एक पीड़िता प्रेग्नेंट हो गई तो उसका जबरदस्ती अबॉर्शन किया गया। आरोपियों का लड़कियों को मारते हुए वीडियो भी वायरल हुआ है। सभी आरोपी फिलहाल फरार हैं।

इन आरोपियों के चंगुल से भागी एक पीड़िता ने अपनी आपबीती सुनाई। उसने बताया कि, फेसबुक के माध्यम से उसका तिलक नाम के एक व्यक्ति से कॉन्टैक्ट हुआ। उसने पीड़िता को जॉब का लालच दिया। हॉस्टल के लिए पीड़िता से 20 हजार रुपए जमा कराए गए। पांच दिन ताल लड़की को एक रूम में रखा। इस रूम में 10 लड़कियां रहती थीं। पांच दिन बाद लड़की को एक सेंटर पर लेकर गए जहां 500 से 1000 लोग थे।

इस सेंटर पर लोगों को फ्रॉड कॉल करना सिखाया जाता था। दो से तीन महीने बीत जाने के बाद भी लड़की को जब सैलरी नहीं मिली तो उसने इस फ्रॉड कंपनी के सीएमडी और तिलक नाम के व्यक्ति से सवाल किये। लड़की को कहा गया कि, अगर तुम 50 लोगों को बुलाओगे तो हम तुम्हारी सैलरी 50 हजार कर देंगे। इसके बाद लड़की के फ़ोन से कांटेक्ट लिस्ट निकाली गई और उसे जबरदस्ती लोगों को अपने झांसे में लेने के लिए कहा गया।

पीड़िता ने बताया कि, इसके बाद तिलक नाम के व्यक्ति ने उसे शादी का झांसा दिया और उसका शारीरिक शोषण किया। जब मुजफ्फरपुर में रेड पड़ी तो पीड़िता को हाजीपुर ले गए और वहां उसकी शादी जबरदस्ती तिलक से करा दी गई।

अब इस मामले में पुलिस का कहना है कि, पीड़िता ने कोर्ट में जाकर ये सभी बातें कही है। कोर्ट के आदेश के आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। सभी आरोपियों को ढूंढने के लिए छापेमारी की जा रही है। महिलाओं - लड़कियों के साथ यौन उत्पीड़न के आरोपों की जांच भी की जाएगी। ये आरोपी एक मार्केटिंग फार्म डीवीआर से जुड़े थे जो एक फर्जी कंपनी है।

Updated : 18 Jun 2024 6:22 AM GMT
Tags:    
author-thhumb

Gurjeet Kaur

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Top