Latest News
Home > Lead Story > मिशन 144 : केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह रायबरेली और ज्योतिरादित्य सिंधिया तृणमूल के गढ़ में पार्टी को करेंगे मजबूत

मिशन 144 : केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह रायबरेली और ज्योतिरादित्य सिंधिया तृणमूल के गढ़ में पार्टी को करेंगे मजबूत

2019 के लोक सभा चुनाव में अमेठी से राहुल गांधी की विदाई हो गई थी लेकिन रायबरेली सीट अकेली कांग्रेस के खाते में चली गई। अब भाजपा ने 2024 में उत्तर प्रदेश से गांधी परिवार के पूर्ण विदाई की तैयारी शुरू कर दी है।

मिशन 144 : केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह रायबरेली और ज्योतिरादित्य सिंधिया तृणमूल के गढ़ में पार्टी को करेंगे मजबूत
X

नईदिल्ली/वेब डेस्क। 2024 लोकसभा चुनाव में भले अभी दो साल है लेकिन भारतीय जनता पार्टी ने अभी से इसकी तैयारी शुरू कर दी है। 2019 के लोकसभा चुनाव में जिन सीटों पर हार मिली थी उन्हें जितने के लिए भाजपा ने पूरा प्लान बना लिया है, जिसे मिशन 144 नाम दिया है। भाजपा ने इन 144 सीटों को 40 क्लस्टरों में बांटा है। इसमें एक-एक क्लस्टर का प्रभार एक केंद्रीय मंत्री को सौंपा गया है। जिसमें सबसे महत्वपूर्ण सोनिया गांधी की रायबरेली ममता बनर्जी के गढ़ कोलकाता उत्तर की जिम्मेदारी मप्र से ग्वालियर-चंबल अंचल के कद्दावर नेता और केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और ज्योतिरादित्य सिंधिया को दी गई है।

केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर वर्तमान में मुरैना-श्योपुर लोकसभा क्षेत्र से सांसद और मोदी कैबिनेट में बीते 8 साल से कैबिनेट मंत्री है। वहीँ ज्योतिरादित्य सिंधिया राज्यसभा सांसद और केंद्रीय मंत्री है। दोनों ही नेताओं का संगठन और सरकार में तेजी से ग्राफ बढ़ा है। अब एक बार फिर 2024 के लिए संगठन ने अहम जिम्मेदारी सौंपी है। 2019 के लोक सभा चुनाव में अमेठी से राहुल गांधी की विदाई हो गई थी लेकिन रायबरेली सीट अकेली कांग्रेस के खाते में चली गई थी। अब भाजपा ने 2024 में उत्तर प्रदेश से गांधी परिवार पूर्ण विदाई की तैयारी शुरू कर दी है।

सपा संरक्षक की सीट की जिम्मेदारी जितेंद्र सिंह को दी -

इसके अलावा उत्तर प्रदेश में यादव परिवार के मुखिया और सपा संरक्षक ओर सांसद मुलायम सिंह की सीट मैनपुरी पर भी नजर है। इस सीट की जिम्मेदारी केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह को दी गई है। 2019 में उत्तर प्रदेश में गंवाई 15 सीटों के लिए 3 क्लस्टर, पश्चिम बंगाल की 19 सीटों को पांच क्लस्टर में बांटा है। इसके अलावा ओडिशा की 13, पंजाब की 3, महाराष्ट्र की 8 और तेलांगना की 12 सीटों के लिए भी क्लस्टर तैयार कर प्रभारी नियुक्त किए है। जो इन लोक सभा क्षेत्रों में प्रवास कार्यक्रम के तहत बूथ मजबूत करने, बूथ स्तर पर संवाद करने, सभी लाभार्थियों से मिलने, आदि कार्यक्रमों के तहत पार्टी की स्थिति को मजबूत करेंगे।

इन मंत्रियों को मिली जिम्मेदारी -

भाजपा ने फिलहाल बंगाल में मंत्रियों को जिमेदारी सौंपी है। जिसमें स्मृति ईरानी को हावड़ा और श्रीरामपुर, बीरेंद्र कुमार को मालदा दक्षिण और कृष्णानगर, धर्मेंद्र प्रधान को दमदम और जादवपुर, ज्योतिरादित्य सिंधिया, अजय भट्ट, रामेश्वर तेली, आरके सिंह को क्रमश: कोलकाता उत्तर, आसनसोल, बोलपुर और बीरभूम का प्रभार दिया है।


Updated : 2022-05-28T16:55:20+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top