Top
Home > Lead Story > आयुर्वेद शिक्षण और अनुसंधान संस्थान बिल 2020 राज्यसभा से पास

आयुर्वेद शिक्षण और अनुसंधान संस्थान बिल 2020 राज्यसभा से पास

आयुर्वेद शिक्षण और अनुसंधान संस्थान बिल 2020 राज्यसभा से पास

नई दिल्ली। कोरोना संकट के इस दौर में सोमवार से संसद के मॉनसून सत्र की शुरुआत हो चुकी है। आज संसद के मॉनसून सत्र का तीसरा दिन है। उम्मीद की जा रही है कि सदन में आज कई महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा हो सकती है। ऊपरी सदन की कार्यवाही सुबह नौ बजे से दोपहर एक बजे तक चलेगी तो लोकसभा की कार्यवाही तीन बजे से शाम के सात बजे तक जारी रहेगी। इससे पहले बुधवार को राजनाथ सिंह ने संसद में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर चीन के साथ तनाव को लेकर बयान दिया।इसके अलावा, किसानों से जुड़े तीन अध्यादेशों को लेकर विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया है। भारतीय किसान यूनियन से बड़ी संख्या में जुड़े किसान अध्यादेश के खिलाफ बुधवार को संसद के बाहर धरना प्रदर्शन करने कर सकते हैं। शिवसेना सांसद संजय राउत ने राष्ट्रीय सुरक्षा को लेकर शून्यकाल नोटिस दिया है।

राजद के राज्यसभा सासंद मनोज झा ने कहा कि कोरोना काल में जून के महीने में एक क्षण ऐसा आया, जब एक महापुरुष (योगगुरु रामदेव) ने कहा कि उन्होंने कोरोना की दवाई बना ली है। उनका कोई नुकसान नहीं हुआ। उनकी दवाइयां बिक गईं। कोरोना काल में किस तरह से आयुर्वेद का गलत इस्तेमाल किया गया है, इसका हमें ध्यान रखना चाहिए।

-आयुर्वेद शिक्षण और अनुसंधान संस्थान बिल 2020 राज्यसभा से पास

-कोरोना महामारी और सरकार द्वारा उठाए गए कदमों के बारे में 15 सितंबर को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन द्वारा दिए गए बयान पर आज राज्यसभा में चर्चा होनी है।

-कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने 'राजनीतिक नेताओं और प्रमुख अधिकारियों पर चीनी निगरानी' के मुद्दे पर लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव दिया है।

-कांग्रेस सांसद वेनुगोपाल ने राज्यसभा में कहा कि एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, शेन्जेन स्थित टेक कंपनी जो चीनी सरकार से जुड़ी हुई है, वह 10000 भारतीयों को ट्रैक कर रही है। मैं सरकार से जानना चाहता हूं कि क्या उसने इस पर ध्यान दिया है। अगर हां, तो क्या कार्रवाई की गई है?

- मॉनसून सत्र के तीसरे दिन राज्यसभा की कार्यवाही शुरू हुई।

- शिवसेना सांसद संजय राउत, केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह, मुख्तार अब्बास नकवी संसद सत्र में भाग लेने के लिए राज्यसभा पहुंच गए।

-कांग्रेस सांसद आनंद शर्मा ने राज्यसभा में एलएसी पर चीनी सेना की घुसपैठ और एलएसी पर भारत और चीन की सेनाओं के बीच सैन्य गतिरोध को लेकर छोटी अवधि की चर्चा के लिए नोटिस दिया है।

-राजद से राज्यसभा सांसद मनोज झा ने राज्यसभा में कोविड-19 और प्रवासियों के कार्यबल पर इसके प्रभावों पर शून्यकाल नोटिस दिया है।

-शिवसेना नेता औ राज्यसभा सांसद संजय राउत ने राज्यसभा में जेएनपीटी (जवाहरलाल नेहरू पोर्ट ट्रस्ट) बंदरगाहों के प्रस्तावित निजीकरण और राष्ट्रीय सुरक्षा पर चिंता को लेकर शून्यकाल नोटिस दिया है।

-बसपा सांसद वीर सिंह ने राज्यसभा में लॉकडाउन और कोरोना वायरस महामारी के कारण बेरोजगारी में वृद्धि को लेकर शून्यकाल नोटिस दिया है।

Updated : 16 Sep 2020 7:15 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top