Home > Lead Story > Ayodhya Travel Guide: अयोध्‍या घूमने का प्‍लान बना रहे हैं तो बस श्री राम मंदिर ही नहीं बल्कि ये खूबसूरत जगहें भी जरूर जाएं...

Ayodhya Travel Guide: अयोध्‍या घूमने का प्‍लान बना रहे हैं तो बस श्री राम मंदिर ही नहीं बल्कि ये खूबसूरत जगहें भी जरूर जाएं...

Ayodhya Travel Guide: अयोध्‍या घूमने का प्‍लान बना रहे हैं तो बस श्री राम मंदिर ही नहीं बल्कि ये खूबसूरत जगहें भी जरूर जाएं...
X

Ayodhya Travel Guide: अयोध्या राम मंदिर (Ayodhya Ram Mandir) का नाम सुनते ही हर किसी की आंखों के सामने भगवान श्री राम (Lord Rama) की मनमोहक सी तस्वीर नजर आती है जिसके दर्शन किए बिना शायद कोई खुद को रोक पाएं। गर्मी की छुट्टियों की शुरुआत हो गई ऐसे में अगर आप भी अपने परिवार के साथ अयोध्या राम मंदिर (Ayodhya Ram Mandir Visit) घूमने जाने का प्लान कर रहे हैं तो आपको केवल राम मंदिर ही नहीं अयोध्या में ऐसी कई प्राकृतिक और खूबसूरत जगहें देखने के लिए मिलेगी जहां आपको अगली बार भी आने का मन करेगा। चलिए आगे बढ़ते है अपनी अयोध्या की सैर पर।

धार्मिक ही नहीं ऐतिहासिक भी है भगवान राम की नगरी

भगवान श्री राम की जन्मस्थली (Lord Rama birth Place) में ऐसे ही 5000 से ज्यादा मंदिर है जिसका संबंध भगवान श्री राम की लीलाओं और कथाओं से जुड़ा है। जिन जगहों पर आप घूमने जाने के लिए पैदल या रिक्शे से या बैट्री रिक्शे से घूम सकते है।

श्री राम जन्म भूमि मन्दिर


22 जनवरी 2024 को अयोध्या में भगवान श्री राम के नवनिर्मित राम मंदिर में भगवान के बाल स्वरूप प्रतिमा की स्थापना हो गई तो वहीं धार्मिक पर्यटन नगरी में भगवान राम के दर्शन के लिए देश ही नहीं विदेशों से पर्यटक रोजाना आते हैं। 5 अगस्त 2020 को शुरू हुए राम मंदिर के निर्माण को 2024 में विराम मिला और भगवान को उनकी नगरी में स्थापित किया गया। स्थापना के बाद से अब तक रोजाना कई श्रद्धालु दर्शन के लिए आ चुके हैं और आ रहे है।

हनुमान गढ़ी मंदिर

भगवान श्री राम मंदिर के दर्शन करने के अलावा आप प्राचीन मंदिरों में से एक हनुमान गढ़ी मंदिर( Hanuman Gadhi Mandir) के दर्शन कर सकते हैं। भगवान श्री राम के अनन्य भक्त हनुमान जी की भव्य मूर्ति यहां विराजित है, जिसे देखने के लिए पर्यटक रोजाना आते हैं। इस मंदिर की मान्यता काफी हैं यहां जो भी भक्त अपनी मनोकामनाएं लेकर आते है भगवान पूरी करते हैं। यहां आपको काफी आनंद और सुकून का अनुभव होगा। इस मंदिर में भगवान को प्रसिद्ध मिठाई बेसन के लड्डू का भोग लगता है जो भक्तों को भी काफी भाँति है।

सरयू घाट

अयोध्या, प्राचीन मंदिरों के अलावा घाटों का भी पर्यटक स्थल है। यहां का सबसे प्रसिद्ध घाट सरयू घाट (Saryu Ghat) है कहते है राम मंदिर या फिर कोई और मंदिर घूमने जाए तो आप सबसे पहले सरयू घाट के किनारे स्नान कर लें। मान्यता है यहां पर स्नान करने से आपके सारे पाप धुल जाते हैं इतना ही नहीं घाट पर मौजूद नौकाओं पर सवार होकर घाटों की खूबसूरती और आसपास मौजूद मंदिरों की मनमोहक छंटा देख सकते है।

राम की पैड़ी

सरयू घाट के अलावा यहां पर आप राम की पैड़ी देखना नहीं भूले। इस जगह पर हर साल दीवाली पर भव्य और विशाल दीपोत्सव आयोजित किया जाता है इसे देखने के लिए केवल अयोध्या वासी ही नहीं विदेशों से पर्यटक आते है। कहते है कि, एक बार लक्ष्मण जी ने सभी तीर्थ स्थलों के दर्शन करने के लिए जाने का निश्चय किया था तब श्री राम जी ने यहां इस पैड़ी की स्थापना की जिसका नाम राम पैड़ी पड़ा और भगवान राम ने यह भी कहा कि सायंकाल के समय सभी तीर्थ यहां पर स्नान के लिए उपस्थित होंगे।

श्री नागेश्वर नाथ मन्दिर अयोध्या

राम मंदिर और हनुमान मंदिर के अलावा प्रसिद्ध मंदिरों में से एक श्री नागेश्वर नाथ मन्दिर भी बेहद खास मंदिर है। इस मंदिर का निर्माण भगवान राम के पुत्र कुश ने करवाया था। यह मंदिर काफी प्राचीन होने के कारण खंडहर हो गया, तथा उसके बाद महाराजा विक्रमादित्य ने इसका फिर से निर्माण कर श्रद्धालु के लिए खोल दिया था।

सीता की रसोई

अयोध्या में मंदिर और घाटों के अलावा सीता की रसोई काफी प्रसिद्ध है , नाम से स्पष्ट यहां निशुल्क भोजन की व्यवस्था की जाती है। जो भी भक्त दर्शन के लिए आते है यहां भोजन कर सकते है। कहते हैं यह एक ऐतिहासिक रसोई है जिसका उपयोग देवी सीता द्वारा किया जाता था यहां यह पवित्र स्थान अब एक मंदिर है जिसमें कुछ प्रदर्शन पात्र हैं।

कैसे पहुंचे अयोध्या

अयोध्या आने के लिए आप ट्रेन, हवाई सफर किसी से भी अपनी यात्रा का प्लान कर सकते है। IRCTC समय- समय पर अयोध्या के लिए स्पेशल टूर पैकेज ऑफर करते है, तो फिर जानिए कैसे पहुंचे श्री राम नगरी।

1- हवाई मार्ग से

अयोध्या घूमने आने के लिए अगर आप हवाई सफर चुनते हैं तो सबसे पहले आप को लखनऊ चौधरी चरण सिंह एयर पोर्ट आना होगा। यहां से आप 130 किमी की दूरी पर अयोध्या पहुंच सकते है जहां जाने के लिए प्राइवेट कैब, बस, व ट्रेन तीनों माध्यम ले सकते है या फिर लखनऊ से अयोध्या 80 रुपए के सस्ते किराए से भी आपको जाना आसान होगा।

2- ट्रेन मार्ग से

अगर आप अपने शहर से ट्रेन के जरिए अयोध्या जा रहे है तो आपको डायरेक्ट भी कई ट्रेनें मिल जाएगी। अगर कोई सीधी ट्रेन नहीं मिलती है तो आप मनकापुर या लखनऊ स्टेशन के लिए ट्रेन ले सकते है। बता दें कि मनकापुर से अयोध्या 35 किलो मीटर तथा लखनऊ से 130 किलो मीटर दूर है।

3- बस से

यहां पर बस के जरिए भी आप अयोध्या मंदिर पहुंच सकते हैं।उत्तर प्रदेश और आस पास के राज्यों से अयोध्या के लिए एसी व नॉन एसी बसें चलती हैं आप उससे भी अयोध्या जा सकते हैं।

क्या है रहने और खाने की व्यवस्था

अयोध्या में घूमने आने वाले कई पर्यटक तो स्पेशल पैकेज के जरिए खाने और रहने की पूरी व्यवस्था के साथ आते है। अगर आपने कोई पैकेज नहीं लिया है तो आपको यहां रुकने के लिए कई प्राइवेट होटल और धर्मशालाएं सस्ते किराए की मिल जाएगी। यहां पर रुकने के लिए श्री जानकी महल ट्रस्ट बिड़ला धर्मशाला में रूकने के लिए उत्तम व्यवस्था है जिसमे आपको यहां नॉन एसी कमरा तथा एसी कमरा दोनों मिल जायेंगे। यहां रूकने से आप अयोध्या की धर्म और संस्कृति से परिचित हो जायेंगे।

खाने की व्यवस्था

रहने के बाद अयोध्या में आपको खाने के लिए भटकना नहीं पड़ेगा यहां कई AC तथा NON AC रेस्टोरेंट तथा भोजनालय आपको आसानी से मिल जायेंगे। जहां पर आप अपना मनपसंद भोजन कर सकते हैं। इतना ही नहीं आपको श्री राम जन्मभूमि के पास अमावा राम मन्दिर के बाहर पटना के प्रसिद्ध महावीर मन्दिर के द्वारा राम की रसोई का भोजन भी मिल सकता है यह व्यवस्था बिलकुल निशुल्क होती है।

Updated : 20 May 2024 2:00 PM GMT
Tags:    
author-thhumb

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Top