Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > योगी सरकार ने महामारी की तैयारी नहीं की : अखिलेश यादव

योगी सरकार ने महामारी की तैयारी नहीं की : अखिलेश यादव

योगी सरकार ने महामारी की तैयारी नहीं की : अखिलेश यादव
X

लखनऊ। समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शनिवार को भाजपा पर जमकर हमला बोला। बिना नाम लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर प्रहार करते हुए कहा कि कोरोना महामारी से बचाव के लिए जिनको इंतजाम करना था, वे स्टार प्रचारक बनकर झूठ बोलने बंगाल निकल गए हैं। उन्हें उत्तर प्रदेश की चिंता नहीं है। वहीं, हाल ही में वाराणसी स्थित बाबा काशी विश्वनाथ मंदिर मामले में जांच के आदेश पर खुलकर जवाब देने से कतरा गए। उन्होंने कहा कि लग रहा है कि चुनाव आ गया है।

श्री यादव शनिवार को पार्टी मुख्यालय पर प्रेसवार्ता को संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर कांग्रेस व बसपा के नेताओं को सदस्यता दिलाई। सदस्यता दिलाने के बाद उन्होंने कहा कि वैश्विक महामारी ने हम सभी को घेर लिया है। बहुत सारे लोगों की जान गई है। करोड़ों लोगों की नौकरी गई। समझ नहीं आ रहा कि कैसे बाहर निकले। जिन्हें इंतजाम करना था, झूठ बोलने बंगाल निकल गए। उन्हें उत्तर प्रदेश की चिंता नहीं है।

महामारी की तैयारी नहीं -

उन्होंने कहा कि सरकार ने महामारी की कोई तैयारी नहीं ​की। अस्पतालों में बेड नहीं हैं। प्रदेश में दवाइयां नहीं हैं। वैक्सीन लगने के बाद भी लोग बीमार पड़ रहे हैं। वहीं, कहा कि कोरोना की वैक्सीन की जगह कुत्तों की वैक्सीन लगाने के मामले आए हैं। क्या सरकार बताएगी कि शा​मली में कौन सी वैक्सीन लगाई गई। तीन महिलाओं को कुत्तों का वैक्सीन लगा दिए। महंगाई बढ़ गई है। उन्होंने कहा कि आगामी चुनाव में जनता बदलाव लाएगी।

सपा ने लगातार संघर्ष किया -

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि 2022 में उत्तर प्रदेश का चुनाव देश का चुनाव होगा। भाजपा भाजपा का मुकाबला करने के लिए सपा ने लगातार संघर्ष किया। भाजपा सरकार के पास रोजगार, किसान, भ्रष्टाचार के सवाल का जवाब नहीं है। वहीं, बंगाल में हो रहे चुनाव पर उन्होंने कहा कि बंगाल में भाजपा हार रही है। ममता बनर्जी जीत रही हैं। हम भी अपील कर रहे हैं कि ममता जी को जीताएं। ममताजी से ज्यादा बंगाल में कोई लोकप्रिय नहीं है।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि, डॉ आंबेडकर व डॉ लोहिया एक साथ काम करना चाहते थे। किन्हीं परिस्थितयों के कारण एक साथ नहीं आ सके। बाबा साहेब की जयंती पर सपा का आयोजन दलित दिवाली पर घिरे अखिलेश ने कहा कि कुछ भी नाम हो सकता है। दलित दिवाली के विरोध में ट्रेंड कराने वाले भाजपा व कांग्रेस के लोग थे। योगी सरकार को घेरते हुए उन्होंने कहा कि कोर्ट ने भी माना है कि एनएसए फर्जी लगाए जा रहे हैं। इस सरकार में न्याय की उम्मीद ही नहीं है। आजम खां के बहू पर फर्जी मुकदमे लगे हैं। सपा अध्यक्ष ने पंचायत चुनाव पर कहा कि सभी दलों के लोगों को साथ लेकर चलना है।

Updated : 2021-04-10T14:11:19+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top