Top
Home > Lead Story > लॉकडॉउन के बीच एयर वाइस मार्शल बोले - हम देश के भीतर और बाहर किसी भी स्थिति से निपटने के लिए हैं तैयार

लॉकडॉउन के बीच एयर वाइस मार्शल बोले - हम देश के भीतर और बाहर किसी भी स्थिति से निपटने के लिए हैं तैयार

लॉकडॉउन के बीच एयर वाइस मार्शल बोले - हम देश के भीतर और बाहर किसी भी स्थिति से निपटने के लिए हैं तैयार

नई दिल्ली। कोरोना वायरस को रोकने के लिए लगाए गए लॉकडॉउन के बीच एयर वाइस मार्शल सूरत सिंह, सहायक चीफ ऑफ एयर स्टाफ ऑपरेशंस (स्पेस) ने कहा है कि हम देश के भीतर और बाहर किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं। हमने नेपाल में भी सामग्री की सप्लाई की है। न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए सूतर सिंह ने कहा कि अपने लोगों को वापस लाने के लिए हमने पहले अपना विमान वुहान और फिर ईरान भेजा था।

उन्होंने आगे कहा कि हमने ऑपरेशन संजीवनी के तहत मालदीव में चिकित्सा आपूर्ति के लिए भी एयरक्राफ्ट भेजा था। बता दें कि लॉकडाउन के बीच देशभर में जरूरी सामानों की आपूर्ति के लिए वायुसेना की मदद ली जा रही है। खासकर दवाओं और जरूरी सामानों को दूर दराज के इलाकों में पहुंचाने कि लिए वायुसेना के मालवाहक विमान लगे हुए हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक देश में कोरोना वायरस के संक्रमण के मामले बुधवार को बढ़कर 5194 हो गए जबकि इससे हुयी मौत का आंकड़ा 149 पर पहुंच गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने नियमित संवाददाता सम्मेलन में बताया कि मंगलवार से कोरोना संक्रमण के 773 मामले सामने आए और इस दौरान 32 लोगों की मौत हुई है। अग्रवाल ने संक्रमण की गति को रोकने के लिए लागू लॉकडाउन को प्रभावी बताते हुए कहा कि संक्रमण को रोकने के लिए राष्ट्रीय स्तर पर विभिन्न मंत्रालयों और विभागों के सहयोग से स्थानीय लोगों को इस संक्रामक बीमारी के बारे में जागरुक करने तथा चिकित्सा उपायों को प्रभावी बनाने पर जोर दिया जा रहा है।

वहीं, भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के वैज्ञानिक रमन आर गंगाखेडकर ने बताया कि देश में अब तक कोरोना संक्रमण की जांच के लिए 1,21,271 परीक्षण हो चुके हैं। इनमें पिछले 24 घंटों के दौरान किये गये 13,345 परीक्षण शामिल हैं। उन्होंने बताया कि देश में आईसीएमआर की प्रयोगशालाएं बढ़कर 139 हो गई हैं जबकि निजी क्षेत्र की 65 प्रयोगशालाओं को भी कोविड-19 के परीक्षण करने की मंजूरी दे दी गई है।

Updated : 8 April 2020 2:26 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top