Home > राज्य > अन्य > जम्मू-कश्मीर > जम्मू कश्मीर में मना 5 अगस्त का जश्न, जगह - जगह लहराया तिरंगा

जम्मू कश्मीर में मना 5 अगस्त का जश्न, जगह - जगह लहराया तिरंगा

जम्मू कश्मीर ने अनुच्छेद 370 हटने की दूसरी वर्षगांठ मनाई

जम्मू कश्मीर में मना 5 अगस्त का जश्न, जगह - जगह लहराया तिरंगा
X

श्रीनगर। देश की आजादी का जश्न मनाने का मौका आने में तो अभी 10 दिन बाकी हैं लेकिन जम्मू-कश्मीर की आजादी का जश्न आज पूरे प्रदेश में मनाया जा रहा है। अनुच्छेद 370 हटाये जाने के दो साल पूरे होने की खुशी में गुरुवार को पूरे जम्मू-कश्मीर में जगह-जगह चौराहों पर राष्ट्रीय ध्वज फहराए जा रहे हैं। लोग भारत माता की जय का उद्घोष करके अपनी खुशी का इजहार कर रहे हैं।


इस मौके पर छन्नी हिम्मत व त्रिकुटा नगर चौक में ध्वजारोहण किया गया। छन्नी हिम्मत में सेवानिवृत्त ब्रिगेडियर व जेकेसीसी के सदस्य अनिल गुप्ता ने भाजपा ओबीसी मोर्चा के महासचिव एवं कॉरपोरेटर राज कुमार त्रखान के साथ ध्वजारोहण किया। यहां बड़ी संख्या में इकठ्ठा लोगों ने झंडा फहराया और जयघोष लगाए। सुबह करीब चार बजे कॉरपोरेटर अजय गुप्ता की देखरेख में त्रिकुटा नगर स्थित भारत माता पार्क से प्रभातफेरी निकाली गई। यह प्रभातफेरी त्रिकुटा नगर, मार्बल मार्केट, मिनी मार्केट, फ्रेंड्स कालोनी के विभिन्न मोहल्लों से होते हुए त्रिकुटा नगर पार्क में समाप्त हुई। प्रभातफेरी में भारत माता के जयघोष से हर किसी में देश भक्ति का जज्बा भर गया। प्रभातफेरी का हिस्सा बनने वाले बहुत से ऐसे लोग भी थे जो सुबह सैर को निकले थे।

भाजपा अपने चुनावी घोषणा पत्र के प्रति प्रतिबद्ध -

जेकेसीसी के सदस्य अनिल गुप्ता ने इस मौके पर मौजूद सभी लोगों को अनुच्छेद 370 व 35ए के हटने की बधाई देते हुए कहा कि आज हम सभी भगवान श्री राम जी के मंदिर के शिलान्यास के भी गवाह बने हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा अपने चुनावी घोषणा पत्र के प्रति प्रतिबद्ध है। हम अपने नारे सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास पर खरा उतरेंगे। कॉरपोरेटर राज कुमार ने कहा कि सत्तर से अधिक वर्षों के बाद हमें कश्मीरी नेतृत्व से आजादी मिली है। 370 हटने के ऐतिहासिक फैसले के बाद गोरखा समाज, बाल्मीकि समाज, शरणार्थी समाज को उनका स्थायी अधिकार मिल गया है। उन्होंने कहा कि देश की आजादी के बाद जम्मू-कश्मीर गुलामी की जंजीरों में जकड़ा हुआ था जो 5 अगस्त 2019 का आजाद हुआ।

कश्मीर में शांति और विकास -

दूसरी तरफ कश्मीर घाटी के बारामुला में गुरुवार को भाजपा युवा नेता हमीद भट के नेतृत्व में बड़ी संख्या में लोगों ने मुख्य चौक में राष्ट्रीय ध्वज फैलाकर अलगाववादी ताकतों व आतंकवादी संगठनों को यह बता दिया कि अब वे कश्मीर में शांति और विकास चाहते हैं। अब कोई भी उन्हें जेहाद के नाम पर बेवकूफ नहीं बना सकता। उन्होंने कहा कि कश्मीर के बच्चों को अब बंदूक नहीं, केवल कलम उठानी है।

Updated : 2021-10-12T16:08:36+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top