Top
Home > विदेश > साउथ कोरिया में सत्ताधारी पार्टी की सरकार में वापसी

साउथ कोरिया में सत्ताधारी पार्टी की सरकार में वापसी

साउथ कोरिया में सत्ताधारी पार्टी की सरकार में वापसी
X

सियोल। वैश्विक कोरोना वायरस के कहर के बीच साउथ कोरिया (दक्षिण कोरिया) में हुए चुनाव में सत्ताधारी पार्टी ने जीत हासिल कर ली है। साउथ कोरिया के राष्ट्रपति मून-जे-इन की डेमोक्रेटिक पार्टी ने संसदीय चुनाव में 163 सीटों पर जीत दर्ज की है। चुनाव के परिणाम के अनुसार, मून की डेमोक्रेटिक पार्टी ने 300 सीटों वाली नेशनल असेंबली में 163 सीटों पर जीत हासिल की है। साउथ कोरिया दुनिया का पहला ऐसा देश बन गया है, जहां पर कोरोना महामारी के बीच ही राष्‍ट्रीय चुनावों को संपन्‍न कराया गया है।

वहीं, डेमोक्रेटिक पार्टी की सयहोगी प्‍लेटफॉर्म पार्टी को भी 17 सीटें मिली हैं। इस तरह से सहयोगी के सीटों को मिलाकर सत्ताधारी पार्टी के पास अब कुल 180 सीटें हो गई हैं। इस चुनाव में करीब 35 पार्टियों ने अपने-अपने उम्मीदवार उतारे थे, मगर असल टक्कर लेफ्ट झुकाव वाली डेमोक्रेटिक पार्टी और कंजर्वेटिव विपक्ष, यूनाइटेड फ्यूचर पार्टी के बीच ही देखने को मिली।

दरअसल, कोरिया के संसदीय चुनाव में लाखों लोगों ने मास्क और दस्ताने पहनकर बुधवार को अपने मताधिकार का प्रयोग किया। वोटिंग के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का सख्ती से पालन किया गया। कोरोना वायरस महामारी के बावजूद मतदान का प्रतिशत पिछले तीन दशकों में सर्वाधिक रहा। दक्षिण कोरिया के राष्ट्रीय चुनाव आयोग ने कहा कि शुरुआती मतगणना के अनुसार एक करोड़ 72 लाख लोगों ने बुधवार को मतदान किया।

एक करोड़ 18 लाख लोगों ने मतदान के शुरुआती चरण में या ईमेल के जरिये मतदान किया था। कुल मिलाकर 66.2 प्रतिशत लोगों ने मतदान किया जो 1992 के चुनाव के बाद हुए मतदान का सर्वाधिक आंकड़ा है। विश्लेषक मतदान में इस अप्रत्याशित वृद्धि का कारण बता पाने में असमर्थ हैं। बता दें कि महामारी के कारण उपजे आर्थिक संकट के कारण चुनाव टालने की मांग को सरकार ने ठुकरा दिया था। बता दें कि दक्षिण कोरिया में अब तक कोरोना से 10,590 मामलों की पुष्टि हुई, जिनमें से 225 लोगों की मौत हो चुकी है।

Updated : 16 April 2020 9:24 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top