Top
Home > विदेश > पाकिस्तानी की नापाक हरकतों से भारत ही नहीं अफगानिस्तान भी परेशान, राजनयिक तलब

पाकिस्तानी की नापाक हरकतों से भारत ही नहीं अफगानिस्तान भी परेशान, राजनयिक तलब

पाकिस्तानी की नापाक हरकतों से भारत ही नहीं अफगानिस्तान भी परेशान, राजनयिक तलब
X

काबूल। सीमा पर पाकिस्तान की नापाक हरकतों से भारत के साथ-साथ अफगानिस्तान भी परेशान है। दोनों देशों ने पाकिस्तानी राजदूत को बुलाकर इसके खिलाफ कड़ा ऐतराज जताया है। भारत ने पाकिस्तान की ओर से जारी गोलाबारी और अपने तीन निर्दोष नागरिकों की मौत को लेकर शनिवार को पाकिस्तानी उच्चायोग के प्रभारी को तलब करके कड़ा विरोध जताया। भारत ने इस घटना की निंदा की है।

विदेश मंत्रालय ने कहा कि संघर्षविराम उल्लंघन करते हुए पाकिस्तान ने शुक्रवार की रात सीमा पार से कृष्णाघाटी क्षेत्र में गोलाबारी की जिसके कारण एक बच्चे और उसके माता-पिता की मौत हो गई। विदेश मंत्रालय ने कहा कि पाकिस्तानी सेना द्वारा जानबूझकर भारत के निर्दोष नागरिकों को निशाना बनाया जा रहा है, जिसकी भारत कड़े शब्दों में निंदा करता है, केवल इस साल अब तक 21 भारतीय मारे जा चुके हैं जबकि 94 घायल हुए हैं। एक साल में पाकिस्तान ने 2711 बार संघर्षविराम का उल्लंघन किया।

विदेश मंत्रालय ने कहा कि पाकिस्तान का आतंकियों को समर्थन जारी है। पाक की सेना भारत में इन आतंकियों की घुसपैठ कराने के लिए कवर फायर की मदद लेती है।

पाकिस्तान की गोलीबारी से परेशान अफगानिस्तान ने भी कड़ा विरोध जताया है। अफगानिस्तान की संसद में सांसदों ने शनिवार को आंतरिक मामलों के कार्यवाहक मंत्री मसूद अंदाराबी को कुनार और नूरिस्तान के पूर्वी प्रांतों पर पाकिस्तानी सैन्य बलों द्वारा मोर्टार दागने के बाद बुलाया और अशरफ गनी सरकार पर अफगान लोगों के अधिकारों की उपेक्षा करने का आरोप लगाया।

संसद ने एक रिपोर्ट में कहा कि पिछले एक साल से पाकिस्तानी सैन्य बलों ने अफगानिस्तान के पूर्वी क्षेत्रों, विशेष रूप से नूरिस्तान और कुनार प्रांतों पर मोर्टार के 13,000 से अधिक राउंड फायरिंग की है। टोलो समाचार में बताया गया है कि गोलीबारी में कई नागरिक मारे गए और घायल हो गए।

पाकिस्तान ने शनिवार को उलटे भारत पर संघर्षविराम के उल्लंघन का आरोप लगाया। उसने भारतीय उच्चायोग के एक वरिष्ठ राजनयिक को तलब कर कथित भारतीय गोलीबारी के खिलाफ कड़ा विरोध जताया। पाकिस्तानी विदेश विभाग की ओर से जारी बयान के अनुसार शुक्रवार को राखचिकरी और बरोह सेक्टरों में बिना किसी उकसावे के की गई भारतीय गोलीबारी में दो महिलाएं घायल हो गईं।

Updated : 19 July 2020 8:02 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top