Top
Home > विदेश > Covid-19 : भारतवंशी वैज्ञानिकों के मुरीद हुए ट्रंप

Covid-19 : भारतवंशी वैज्ञानिकों के मुरीद हुए ट्रंप

Covid-19 : भारतवंशी वैज्ञानिकों के मुरीद हुए ट्रंप
X

वॉशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने घातक कोरोना वायरस की दवाई और वैक्सीन बनाने में जुटे भारवतंशी वैज्ञानिकों और शोधकर्ताओं की सराहना की है। उन्होंने कहा कि अमेरिका इस महामारी से निपटने के लिए भारत के साथ मिलकर काम कर रहा है। ट्रंप ने कहा, 'अमेरिका में बड़ी संख्या में भारतीय रहते हैं और उनमें से कई वे हैं जो वैक्सीन बनाने के काम में जुटे हुए हैं। महान वैज्ञानिक और महान शोधार्थी।'

ट्रंप ने शुक्रवार (15 मई) को कहा कि अमेरिका कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में भारत और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ खड़ा है। इसके साथ ही उन्होंने भारत को वेंटिलेटर देने का ऐलान किया। उन्होंने कहा, "मुझे यह घोषणा करते हुए गर्व हो रहा है कि भारत में अपने दोस्तों के लिए अमेरिका वेंटिलेटर दान करेगा।"

ट्रंप ने संवाददाताओं से कहा कि इस साल के अंत तक कोविड-19 का टीका विकसित होने की संभावना है। उन्होंने कहा, ''मैं कुछ ही समय पहले भारत से लौटा हूं और हम भारत के साथ मिल कर काम कर रहे हैं। अमेरिका में भारतीय बहुत बड़ी संख्या में हैं और आप जिन लोगों के बारे में बात कर रहे हैं उनमे से कई लोग टीका विकसित करने में जुटे हुए हैं। बेहतरीन वैज्ञानिक और अनुसंधानकर्ता।"

ट्रंप ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपना बहुत अच्छा मित्र बताया। इस बीच, समाचार एजेंसी एपी की खबर के अनुसार, अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार (15 मई) को उम्मीद जताई कि इस साल के अंत तक या उससे कुछ समय बाद कोरोना वायरस का टीका बाजार में उपलब्ध हो सकता है।

ट्रंप की ओर से वायरस के मामलों के लिए प्रशासन में नियुक्त किए गए एक पूर्व दवा कार्यकारी मोनसेप स्लोई ने कहा कि हमारा प्रयास वर्ष 2020 के अंत तक टीका तैयार करने का है। रोज गार्डन के एक कार्यक्रम में ट्रंप ने कहा कि वह राज्यों को आर्थिक गतिविधियों को दोबारा शुरू करने के साथ ही इसे आगे बढ़ते हुए देखना चाहते हैं।

Updated : 16 May 2020 5:21 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top