Home > विदेश > यूरोप-अमेरिका में कोरोना हालात गंभीर, फ्रांस में एक दिन में 296,097 केस

यूरोप-अमेरिका में कोरोना हालात गंभीर, फ्रांस में एक दिन में 296,097 केस

यूरोप-अमेरिका में कोरोना हालात गंभीर, फ्रांस में एक दिन में 296,097 केस
X

लंदन। कोरोना महामारी के चलते ब्रिटेन और अमेरिका के हालात अभी भी गंभीर बने हुए हैं। वहीं, फ्रांस में रविवार को लगभग तीन लाख (296,097) केस आए हैं।रिपोर्ट के अनुसार ब्रिटेन में कोरोना संक्रमण के नए मामलों में पहले की तुलना में कुछ कमी आने के बाद भी रविवार को कोविड के 1,41,472 नए मामले आए और 97 लोगों की मौत हुई। शनिवार को 1,46,390 मामले मिले थे और 313 मौतें हुई थीं।

हालांकि बीते एक सप्ताह में 12 लाख से ज्यादा मामले पाए गए हैं। यह संख्या उससे पहले के हफ्ते की तुलना में 6.6 फीसदी अधिक है। इस अवधि में 1,295 मौतें हुई हैं जो उससे पहले के हफ्ते की तुलना में 30.9 फीसदी अधिक हैं। वहीं, अमेरिका में कोरोना की रफ्तार बेकाबू होती नजर आ रही है। हर दिन कोरोना के औसतन सात लाख नए मामले मिल रहे हैं। अमेरिका में शुक्रवार को सबसे ज्यादा 8.49 लाख केस मिले थे। आलम यह है कि देश में सरकारी कर्मचारियों की कमी भी नजर आने लगी है।

नेपाल में सार्वजनिक स्थानों पर वैक्सीन कार्ड जरूरी -

नेपाल सरकार ने सरकारी कार्यालयों, होटल, रेस्तरां, सिनेमा हाल, स्टेडियम, घरेलू विमान, बैंक एवं अन्य सार्वजनिक स्थानों पर जाने के लिए वैक्सीन कार्ड अनिवार्य करने का फैसला लिया है। 17 जनवरी से यह नियम लागू हो जाएगा। तेजी से फैल रहे ओमिक्रोन वायरस को रोकने के लिए यह निर्णय लिया गया है। पिछले एक सप्ताह के दौरान नेपाल में कोरोना के मामलों में तेजी देखी गई। कोविड संकट प्रबंधन सेंटर ने रविवार को महामारी पर अंकुश लगाने के लिए कई उपाय किए हैं। नेपाल के प्रधानमंत्री इस सेंटर के चेयरमैन हैं। सेंटर ने फरवरी तक सभी स्कूलों को बंद करने का आदेश जारी किया है।

चीन के शियान शहर में सख्त पाबंदी -

चीन के पश्चिमोत्तर सांशी प्रांत की राजधानी शियान शहर में कोरोना संक्रमण के 30 नए मामले सामने आए हैं। कोरोना प्रसार को रोकने के लिए चीन सरकार ने शहर में सख्त पाबंदियां लगाई हैं। प्रतिबंधों के खिलाफ लोगों का गुस्सा भी फूटने लगा है। 1.3 करोड़ की आबादी वाले इस शहर में पाबंदियों के चलते लोगों को खाद्य सामग्री, दवा और दैनिक जरूरत की चीजें नहीं मिल पा रही हैं। इसको लेकर इंटरनेट मीडिया पर लोग अपनी नाराजगी जता रहे हैं। प्रशासन ने ऐसा करने वाले कई लोगों को गिरफ्तार भी किया है।

Updated : 2022-01-11T10:55:02+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top