Latest News
Home > विदेश > पाकिस्तान में हमले के बाद चीन ने बढ़ाई अपने नागरिकों की सुरक्षा

पाकिस्तान में हमले के बाद चीन ने बढ़ाई अपने नागरिकों की सुरक्षा

पाकिस्तान में हमले के बाद चीन ने बढ़ाई अपने नागरिकों की सुरक्षा
X

कराची। शहर में फिदायीन हमले के बाद पाकिस्तान सरकार ने मुल्क में संचालित चीन के परियोजना स्थलों और कार्यरत चीन के नागरिकों की सुरक्षा बढ़ा दी है। पाकिस्तान में चीन के नेसकॉम, एनडीसी और एसपीड़ी नियंत्रित कई परियोजनाएं हैं। चीन ने फिदायीन हमले के बाद एमएसएस और एमपीएस के उच्चस्तरीय संयुक्त प्रतिनिधिमंल को पाकिस्तान का दौरा करने को कहा है।

महिला बलूच विद्रोही के कराची हमले के बाद पाकिस्तान में मौजूद चीन के सभी अधिकारियों की सुरक्षा दोगुना बढ़ा दी गई है। बलूच विद्रोहियों के खिलाफ अभियान शुरू करने के लिए चीन अपने खुफिया एजेंट भी भेज रहा है। चीन के दूतावास ने मंगलवार को हमले के फौरन बाद अपने नागरिकों, कंपनियों और परियोजनाओं को पाकिस्तान में सुरक्षा स्थिति पर पूरा ध्यान देने, सुरक्षा उपायों में सुधार करने और जब तक आवश्यक न हो बाहर न जाने की सलाह दी है। इसके बाद पाकिस्तान ने सभी परियोजनाओं की सुरक्षा बढ़ाई।

कराची में मंगलवार दोपहर हुए फिदायीन हमले में 5 लोग मारे गए। यह हमला कन्फ्यूशियस इंस्टीट्यूट के पास एक कार के करीब हुआ। मारे गए 5 लोगों में से तीन चीन की महिला प्रोफेसर हैं। चौथा उनका पाकिस्तानी ड्राइवर और पांचवां गार्ड है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने चीन के दूतावास जाकर घटना पर शोक जताया।

फिदायीन हमले के फौरन बाद बलूच लिबरेशन आर्मी ने वीडियो जारी किया। इसमें चीन और पाकिस्तान को सीधी धमकी दी गई है। वीडियो में एक नकाबपोश व्यक्ति कहता है- 'हम पाकिस्तानी फौज और चीन की सरकार से कहते हैं कि वो बलूचिस्तान से चले जाएं। वो हमारे गांवों को तबाह कर चुके हैं। हमने चीनियों पर हमले के लिए एक नई यूनिट बनाई है। ये उन चीनियों को निशाना बनाएगी जो चाइना-पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरिडोर यानी (सीपीईसी) के लिए काम कर रहे हैं।'

उल्लेखनीय है कि बलूचिस्तान के नागरिक शुरू से इस कॉरिडोर का का विरोध कर रहे हैं। यहां के समंदर में चीन के ट्राले मछलियां पकड़ते हैं और उन्हें एक्सपोर्ट करते हैं। इससे फिशिंग के जरिए रोजी-रोटी कमा रहे बलूच मछुआरों के सामने भूखा मरने की नौबत आ गई है। हर साल सैकड़ों बलूच नागरिकों को पाकिस्तानी फौज अपह्रत करती है और उन्हें प्रताड़ित कर मार डालती है। हाल के दिनों में बलूच विद्रोहियों ने 60 पाकिस्तानी सैनिकों को मार गिराया है।

Updated : 2022-05-01T23:42:12+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top