Home > विदेश > बाइडेन के चुनाव प्रचार अभियान से लगेगी चीन-पाकिस्तान को मिर्ची, भारत-अमेरिका संबंधों की मजबूती पर होगा जोर

बाइडेन के चुनाव प्रचार अभियान से लगेगी चीन-पाकिस्तान को मिर्ची, भारत-अमेरिका संबंधों की मजबूती पर होगा जोर

बाइडेन के चुनाव प्रचार अभियान से लगेगी चीन-पाकिस्तान को मिर्ची, भारत-अमेरिका संबंधों की मजबूती पर होगा जोर
X

वॉशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी से इस पद के उम्मीदवार जो बाइडेन के चुनावी एजेंडे ने शनिवार (15 अगस्त) को कहा कि उनका प्रशासन भारत-अमेरिका संबंधों को लगातार मजबूत करने को ''उच्च प्राथमिकता" देगा। भारतीय-अमेरिकी नागरिकों से संबंधित एक महत्वपूर्ण नीतिगत दस्तावेज में बाइडेन के प्रचार अभियान ने कहा कि उनका (बाइडेन का) मानना है कि दक्षिण एशिया में, एक देश की सीमा से दूसरे देश में या किसी अन्य रूप में आतंकवाद को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता।

>>बाइडेन प्रशासन नियम आधारित और स्थिर हिंद-प्रशांत क्षेत्र का समर्थन जारी रखने पर काम करेगा, जिसमें चीन सहित कोई भी देश अपने पड़ोसी देश को धमकी नहीं दे सकेगा।

>>बाइडेन के प्रचार अभियान ने कहा, ''बाइडेन लंबे समय से चली आ रही अपनी इस मान्यता को पूरा करेंगे कि भारत और अमेरिका स्वाभाविक साझेदार हैं। बाइडेन प्रशासन अमेरिका-भारत संबंधों को मजबूत करना जारी रखने को उच्च प्राथमिकता देगा।"

>>''भारतीय-अमेरिकी समुदाय के लिए जो बाइडेन का एजेंडा जारी करते हुए कहा, ''भारत और अमेरिका की दायित्वपूर्ण साझेदारी के बिना किसी साझा वैश्विक चुनौती का समाधान नहीं किया जा सकता।" इसने कहा, ''साथ मिलकर, हम भारत की रक्षा क्षमताओं को मजबूत कर सकते हैं तथा आतंकवाद रोधी साझेदार के रूप में काम कर सकते हैं। साथ ही स्वास्थ्य प्रणाली को बेहतर कर सकते हैं और महामारी से निपटने में बेहतर कदम उठा सकते हैं। साथ ही उच्चतर शिक्षा, अंतरिक्ष एवं मानवीय सहायता के क्षेत्रों में सहयोग को और मजबूत कर सकते हैं।"

हम आपको बता दें कि कुछ ही दिन पहले बाइडेन ने भारतीय मूल की अमेरिकी सीटनेटर कमला हैरिस को डेमोक्रेटिक पार्टी से उपराष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित किया, जिसके बाद यह नीतिगत दस्तावेज जारी किया गया है। दस्तावेज में कहा गया है, ''बाइडेन यह सुनिश्चित करेंगे कि दक्षिण एशियाई अमेरिकियों का उनके प्रशासन में प्रतिनिधित्व हो, यह उपराष्ट्रपति पद के लिए नामित सीनेटर कमला हैरिस के साथ शुरू होता है, जिनकी मां भारत से अध्ययन के लिए आईं और अमेरिका में अपना जीवन संवारा।"

Updated : 16 Aug 2020 7:46 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top