Top
Home > विदेश > वुहान में 76 दिनों के बाद बुधवार को खत्म होगा लॉकडाउन, लोग जा सकेंगे शहर से बाहर

वुहान में 76 दिनों के बाद बुधवार को खत्म होगा लॉकडाउन, लोग जा सकेंगे शहर से बाहर

वुहान में 76 दिनों के बाद बुधवार को खत्म होगा लॉकडाउन, लोग जा सकेंगे शहर से बाहर

बीजिंग। कोरोना वायरस महामारी का पहला केंद्र वुहान लॉकडाउन से मुक्त होने जा रहा है। पिछले साल दिसंबर में यहीं से कोरोना वायरस महामारी की शुरुआत हुई थी। चीन का यह शहर बुधवार को 76 दिनों बाद खुलने जा रहा है। 23 जनवरी के बाद पहली बार लोग शहर से बाहर जा पाएंगे।

ढाई महीने तक क्वारंटाइन में रहा यह शहर फिर से दौड़ पाएगा। यातायात की सुविधाएं शुरू होंगी। स्टेशनों से ट्रेनें लोगों को लेकर निकलेंगी तो एयरपोर्ट पर विमान उड़ान भरेंगे। लोग अपनी गाड़ियों में बैठकर शहर के बाहर जा सकेंगे।

चीन सरकार ने यह फैसला मंगलवार को एक भी मौत का मामला सामने नहीं आने के बाद लिया। जनवरी में जबसे नैशनल हेल्थ कमीशन ने आंकड़ों को जारी करना शुरू किया, यह पहली बार है जब कोरोना की वजह से किसी की जान नहीं गई है। 1.1 करोड़ आबादी वाला यह शहर कोरोना से सबसे अधिक प्रभावित था। चीन के कुल 82 हजार कोरोना संक्रमितों में से 50 हजार इसी शहर में थे। कुल 3331 मृतकों में से 2500 वुहान में ही मरे।

दिसंबर में यहां कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आया था। बताया जाता है कि यहां के सीफूड और मीट मार्केट में यह वायरस जानवर से इंसान तक पहुंचा और फिर यह महामारी में बदल गया। दुनियाभर में 13 लाख से अधिक लोग इस वायरस से संक्रमित हो चुके हैं और 70 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। कोरोना संक्रमण मामलों में तेजी के बाद सरकार ने वुहान में लॉकडाउन की घोषणा कर दी थी। इस शहर ने इतिहास का सबसे बड़ा लॉकडाउन देखा। 23 जनवरी के बाद यह सख्त होता चला गया। वायरस के फैलाव के साथ लॉकडाउन भी पूरे हुबेई प्रांत में लागू कर दिया गया। 6 करोड़ लोग घरों में कैद हो गए।

हालांकि, अधिकारियों ने यह भी साफ किया है कि नियंत्रणकारी उपायों को जारी रखा जाएगा। वुहान में कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना के प्रमुख वांग झोंगलिन ने रविवार को कहा, 'सामुदायिक स्तर पर अधिकारी सख्ती से निगरानी और प्रबंधन करते रहेंगे। सुनिश्चित किया जाएगा कि ट्रैफिक बहाली के साथ संक्रमण दोबारा ना फैले।' अधिकारियों ने कहा कि आवासीय इलाकों में प्रवेश और निकासी संबंधी प्रतिबंध और निगरानी जारी रखा जाएगा।

स्थानीय मीडिया के मुताबिक, रेस्ट्रॉन्ट्स, होटल्स, दुकानों, बसों और सबवे स्टेशनों में नागरिकों से हेल्थ कोड स्कैन करने को कहा जाएगा ताकि उनके स्वास्थ्य की स्थिति और यात्रा इतिहास की निगरानी हो सके। चीन के बाकी हिस्सों की तरह हुबेई और वुहान में भी नजर बाहर से आ रहे केसों पर है। चीन में सोमवार को बाहर से कोरोना के 32 केस आए और इनकी कुल संख्या 983 हो चुकी है। इनमें से 285 को डिस्चार्ज किया जा चुका है। 698 का इलाज चल रहा है। इनमें से 21 की हालत गंभीर है।

Updated : 7 April 2020 1:16 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top