Home > देश > पहले की अपेक्षा काफी बदलाव हुआ, रामलला का दर्शन करने अयोध्‍या जाऊंगा- पूर्व राज्यपाल राम नाईक

पहले की अपेक्षा काफी बदलाव हुआ, रामलला का दर्शन करने अयोध्‍या जाऊंगा- पूर्व राज्यपाल राम नाईक

राम नाईक ने कहा कि उत्तर प्रदेश में पहले की अपेक्षा काफी बदलाव हुआ है। बिजली की कमी में सुधार हो रहा है। कानून व्यवस्था में सुधार हुआ है। राज्यपाल रहते हुए मैंने महानगरों में पुलिस कमिश्नरेट प्रणाली लागू करने की बात कही थी। पुलिस कमिश्नरेट व्यवस्था लागू की गयी जिसके अच्छे परिणाम आ रहे हैं।

पहले की अपेक्षा काफी बदलाव हुआ, रामलला का दर्शन करने अयोध्‍या जाऊंगा- पूर्व राज्यपाल राम नाईक
X

नई दिल्‍ली । उत्तर प्रदेश के पूर्व राज्यपाल राम नाईक ने मंगलवार को भाजपा प्रदेश कार्यालय पर अनौपचारिक वार्ता में कहा कि अयोध्या में राम मंदिर बनने की खुशी से मैं अभिभूत हूँ। उन्होंने कहा कि 22 जनवरी 2024 को राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा के बाद मैं रामलला का दर्शन करने अयोध्या जाऊंगा।

राम नाईक ने कहा कि उत्तर प्रदेश में पहले की अपेक्षा काफी बदलाव हुआ है। बिजली की कमी में सुधार हो रहा है। कानून व्यवस्था में सुधार हुआ है। राज्यपाल रहते हुए मैंने महानगरों में पुलिस कमिश्नरेट प्रणाली लागू करने की बात कही थी। पुलिस कमिश्नरेट व्यवस्था लागू की गयी जिसके अच्छे परिणाम आ रहे हैं। उत्तर प्रदेश में सबके लिए एक कानून है। सपा नेता आजम खां के सवाल पर उन्होंने कहा कि उनके साथ जो हो रहा है, उसके लिए वह स्वयं दोषी हैं।

पूर्व राज्यपाल ने कहा कि 2017 में उत्तर प्रदेश में 13 मेडिकल कॉलेज थे। अब 2023 में 27 मेडिकल कॉलेज हो गए हैं। वहीं 18 मेडिकल कॉलेज विचाराधीन हैं। वर्ष 2025 में बढ़कर 45 मेडिकल कॉलेज हो जायेंगे।

राम नाईक ने कहा कि 1947 में देश को आजादी मिली, 1950 में भारत का संविधान बना लेकिन संसद में वंदेमातरम गाया नहीं जाता था। हमारे प्रयास से 1992 में लोकसभा व राज्यसभा में वंदेमातरम गाना प्रारम्भ हुआ। आज का दिन इसलिए भी महत्वपूर्ण है कि 1875 में आज ही के दिन महाकवि बंकिमचन्द्र ने वंदेमातरम लिखा था।

इस अवसर पर भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी मनीष दीक्षित,सह मीडिया प्रभारी हिमांशू दुबे, भाजपा के कार्यालय प्रभारी भारत दीक्षित और सह कार्यालय प्रभारी चौधरी लक्ष्मण सिंह उपस्थित रहे।

Updated : 7 Nov 2023 12:41 PM GMT
Tags:    
author-thhumb

Swadesh Desk

Swadesh Desk


Next Story
Top