Home > देश > किसान दिल्ली की तरफ बढ़े, शंभू बॉर्डर पर बैरिकेडिंग तोड़ी, पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े

किसान दिल्ली की तरफ बढ़े, शंभू बॉर्डर पर बैरिकेडिंग तोड़ी, पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े

किसान दिल्ली की तरफ बढ़े, शंभू बॉर्डर पर बैरिकेडिंग तोड़ी, पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े
X

नईदिल्ली। किसान आंदोलनकारियों ने विरोध प्रदर्शन करने के लिए दिल्ली की तरफ कूच कर दिया है। इस दौरान कोई अप्रिय घटना न हो, उसको देखते हुए दिल्ली में 12 मार्च तक धारा 144 लगा दी गई है।

शंभू बॉर्डर पर हंगामा मचा हुआ है। हरियाणा पुलिस ने फिलहाल किसानों को आगे बढ़ने से रोक दिया है। किसान दिल्ली कूच की जिद पर अड़े हैं। जैसे ही पंजाब से किसानों की भीड़ हरियाणा की तरफ बढ़ती है तो तुरंत मशीन और ड्रोन के जरिए आंसू गैस के गोले छोड़कर उन्हें खदेड़ दिया जा रहा है। पुलिस ने भीड़ को नियंत्रित करने के लिए आँसू गैस के गोले छोड़े है।

केंद्रीय कृषि मंत्री अर्जुन मुंडा ने कहा कि केन्द्र सरकार किसानों से बातचीत कर समाधान निकालना चाहती है।मुंडा ने मंगलवार को मीडिया से बातचीत में कहा कि चंडीगढ़ में किसान नेताओं से दो दौर की बातचीत हो चुकी है। कुछ चीजों में हमें और परामर्श की जरूरत है। भारत सरकार किसान हितों के लिए समर्पित है। किसान हित हमारी प्राथमिकता है। उन्हें समझाने की जरूरत है कि हम किसानों के साथ हैं।

दिल्ली के अन्य राज्यों से लगने वाली सीमाओं पर अब भारी संख्या में सुरक्षा बल तैनात हैं और सुरक्षा के भी इंतजाम कड़े किए गए हैं। एक तरफ बदरपुर बॉर्डर पर दिल्ली की सीमा हरियाणा के फरीदाबाद से मिलती है। उ.प्र. और हरियाणा के साथ लगी सीमाओं पर ब्लॉकर्स भी लगाए हैं। साथ ही पांच हजार से अधिक सुरक्षाकर्मियों को बॉर्डर्स पर तैनात किया गया है।

किसान संगठनों द्वारा बुलाए गए 'दिल्ली चलो' विरोध प्रदर्शन के मद्देनजर गाजीपुर बॉर्डर पर बैरिकेडिंग की गई है। गाजीपुर सीमा से गाजियाबाद जाने वाले वाहन आज अक्षरधाम मंदिर के सामने से पुश्ता रोड या पटपड़गंज रोड/मदर डेयरी रोड या चौधरी चरण सिंह मार्ग आइएसबीटी आनंद विहार और गाजियाबाद में महाराजपुर या अप्सरा सीमा से बाहर निकल सकेंगे।

  • -कालिंदी कुंज बॉर्डर पर दिल्ली की सीमा नोएडा से मिलती है। यही वजह है कि कालिंदी कुंज बॉर्डर पर भी किसानों के दिल्ली मार्च के मद्देनजर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। यहां शाम से ही बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात है।
  • -ट्रैफिक एडवाइजरी के मुताबिक, एनएच-44 के माध्यम से सोनीपत, पानीपत, करनाल आदि की ओर जाने वाली अंतरराज्यीय बसें आईएसबीटी से मजनू का टीला से सिग्नेचर ब्रिज से खजूरी चौक से लोनी बॉर्डर से खेकड़ा के रास्ते केएमपी तक जाएंगी।

Updated : 13 Feb 2024 7:26 AM GMT
Tags:    
author-thhumb

स्वदेश डेस्क

वेब डेस्क


Next Story
Top