Home > देश > Asaduddin Owaisi: मंडला में गोमांस को लेकर हुए बुलडोजर एक्शन पर ओवैसी ने उठाए सवाल, ट्वीट कर बोली ये बात

Asaduddin Owaisi: मंडला में गोमांस को लेकर हुए बुलडोजर एक्शन पर ओवैसी ने उठाए सवाल, ट्वीट कर बोली ये बात

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म x पर ओवैसी ने लिखा कि 2015 में अख़लाक़ के फ्रिज में रखे गोश्त को बीफ बता कर एक हुजूम ने उनके घर में घुस कर उन्हें मार दिया था। ना जाने कितने मुसलमानों पर “तस्करी” और “चोरी” का झूठा इल्ज़ाम लगा कर उनका क़त्ल कर दिया गया।

Asaduddin Owaisi: मंडला में गोमांस को लेकर हुए बुलडोजर एक्शन पर ओवैसी ने उठाए सवाल, ट्वीट कर बोली ये बात
X

Asaduddin Owaisi: मध्य प्रदेश के मंडला जिले में गोमांस को लेकर हुए बुलडोजर एक्शन पर राजनीति शुरू हो गई है। इस बुल्डोजर की कार्रवाई AIMIM नेता और हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) का दर्द छलका है। उन्होंने मध्य प्रदेश सरकार को निशाना बनाया है। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म x पर असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने लिखा कि मध्य प्रदेश के मंडला जिले में 11 मुस्लिम घरों पर बुलडोजर कार्रवाई की निंदा की है। इस घटना को पिछले मॉबलिंचिग की घटना से तुलना की है।

ओवैसी ने क्या लिखा

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म x पर ओवैसी ने लिखा कि 2015 में अख़लाक़ के फ्रिज में रखे गोश्त को बीफ बता कर एक हुजूम ने उनके घर में घुस कर उन्हें मार दिया था। ना जाने कितने मुसलमानों पर “तस्करी” और “चोरी” का झूठा इल्ज़ाम लगा कर उनका क़त्ल कर दिया गया। जो काम पहले भीड़ करती थी वो काम अब सरकार कर रही है। मध्य प्रदेश सरकार ने कुछ मुसलमानों पर इल्ज़ाम लगाया कि उनके फ्रिज में बीफ था और 11 घरों पर बुलडोज़र चला दिया। ना-इंसाफ़ी का सिलसिला थमता नहीं। चुनाव के नतीजों से पहले और बाद भी, घर मुसलमानों के ही तोड़े जाते हैं, क़त्ल मुसलमानों के ही होते हैं। जिन्हें झोली भर-भर के मुसलमानों का वोट मिलता है, वो क्यों चुप हैं?

क्यों हो रही है राजनीति

जानकारी के लिए बता दें कि बीते 14 जून शुक्रवार के दिन सरकारी जमीन पर बने अवैध घरों पर बुलडजोर की कार्रवाई की गई थी जिसमें 11 लोगों के घरों से 150 गाय और बीफ मिला था। इसके बाद पुलिस ने कई और इलाके में भी छापेमारी की थी, जिसके बाद आरोपियों के पास से बीफ और अन्य पशु उत्पाद जब्त किए गए थे। वहीं इस मामले में मंडला के पुलिस अधीक्षक रजत सकलेचा ने जानकारी देकर कहा था कि पुलिस जब वहां छापेमारी के लिए गई थी, तो मौके पर वहां 150 से अधिक 50 गायें मौके पर वहां बंधी मिली थीं। जब घरों की तलाशी ली जाने लगी तो सभी 11 आरोपियों के घरों में फ्रिज से गाय का मांस बरामद हुआ था। जिसके बाद मामले में आरोपियों के खिलाफ FIR भी दर्ज की गई और सरकारी जमीन पर अतिक्रमण के आरोप में उनके घरों को बुलडोजर से ध्वस्त कर दिया गया।

Updated : 17 Jun 2024 9:48 AM GMT
Tags:    
author-thhumb

Anurag Dubey

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Top