Top
Home > स्वास्थ्य > विश्व कैंसर दिवस : मुंह का कैंसर हो सकता है खतरनाक, जानें इसके लक्षण, बचाव, और कारण

विश्व कैंसर दिवस : मुंह का कैंसर हो सकता है खतरनाक, जानें इसके लक्षण, बचाव, और कारण

विश्व कैंसर दिवस : मुंह का कैंसर हो सकता है खतरनाक, जानें इसके लक्षण, बचाव, और कारण

नई दिल्ली। यह सबसे आम कैंसर में से एक है मुंह का कैंसर, यह कैंसर मुंह के किसी भी हिस्से में हो सकता है। जैसे गाल और मसूड़ों के अंदर. यह कैंसर अक्सर ओरल और ओरोफरीन्जियल कैंसर की श्रेणी में आता है। ओरोफेरीन्जियल कैंसर मुंह के पीछे वाले हिस्से और गले को प्रभावित करता है। यह कैंसर तंबाकू, धूम्रपान और शराब का ज्यादा सेवन करने वाले लोगों होता है। आपकी जानकरी के लिए हम आपको बता दें, कि ओरल कैंसर के लक्षण सबसे अलग होते हैं। जैसे मुंह में घाव होना या मुंह से खून बहना हो सकते हैं। वहीं कैंसर का नाम आते ही लोगों में एक दहशत सी पैदा हो जाती है। फिर चाहें शरीर के किसी भी हिस्सें में कैंसर हुआ हो। भारत में मुंह के कैंसर के मामले सबसे ज्यादा पाए जाते हैं, जिसे ओरल कैंसर भी कहते हैं। जो लोग सही से मुंह की सफाई न करते हैं। और मुंह में होने वाली समस्याओं पर ध्यान नहीं देते हैं, ऐसे लोगों में मुंह का कैंसर होने का खतरा अधिक रहता है।

क्या ओरल कैंसर का इलाज हो सकता है? दुनियाभर में 4 फरवरी को विश्व कैंसर डे मनाया जाता है। हर साल इसकी थीम भी निर्धारित की जाती है। यहां जानें विश्व कैंसर दिवस 2020 की थीम, ओरल कैंसर के लक्षण, कारण और बचाव के तरीके..

मुंह के कैंसर के लक्षण:-

- मुंह में घाव होना, सूजन होना, लार में खून निकलना, जलन होना, मुंह में दर्द होना.

- मुंह के अंदर कहीं पर भी गांठ महसूस होना.

- मुंह के अंदर कोई भी रंग परिवर्तन दिखे तो कैंसर का लक्षण हो सकता है.

- मुंह के कैंसर के शुरुआती लक्षणों में मुंह के अंदर सफेद छाले या छोटे-छोटे घाव हो सकते हैं.

- मुंह से दुर्गंध आना.

- आवाज में बदलाव होना.

- खाने में परेशानी होना.

कारण:-

- धूम्रपान करना.

- तंबाकू का सेवन करना.

- शराब का सेवन करना.

- अनुवांशिक भी हो सकता है.

- बिना किसी कारण नियमित बुखार आना

उपाय:-

- मुंह के कैंसर से बचना है तो जितनी जल्दी हो सके धूम्रपान एवं नशे से दूरी बना लेनी चाहिए.

- दांतों और मुंह की रेगुलर अच्छी तरह सफाई करने से मुंह के कैंसर से बचा जा सकता है.

- जंक फूड, प्रोसेस्ड फूड, कोल्ड ड्रिंक्स, डिब्बा बन्द चीजों को कम से कम खाएं.

- ताजे मौसमी फल, सब्जी, सलाद अवश्य खाएं.

- मुंह के अंदर किसी भी प्रकार का बदलाव दिखे तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए.

- तंबाकू का सेवन नहीं करना चाहिए.

Updated : 4 Feb 2020 5:31 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top