Top
Home > स्वास्थ्य > हेल्थ टिप्स > ऑक्सीजन का स्तर बनाए रखने के लिए करें ये योग, बढ़ेगी फेफड़ों की ताकत

ऑक्सीजन का स्तर बनाए रखने के लिए करें ये योग, बढ़ेगी फेफड़ों की ताकत

ऑक्सीजन का स्तर बनाए रखने के लिए करें ये योग, बढ़ेगी फेफड़ों की ताकत
X

वेबडेस्क। देश में अनियंत्रित होती कोरोना की दूसरी लहर के बीच कई राज्यों में ऑक्सीजन की किल्लत सामने आ रही है। इस समय ऑक्सीजन को लेकर सभी जगह हंगामा मचा हुआ है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार कोरोना का नया स्ट्रेन काफी खतरनाक है। जिसके कारण करीब 60 फीसदी मरीजों के फेफड़े खराब हो रहें है।जिससे मरीजों को सांस लेने में तकलीफ हो रही है, ऑक्सीजन की मांग बढ़ रही है।

ऑक्सीजन की सर्वाधिक कमी हाई बीपी के मरीजों में हो रही है। योग एवं प्रणायाम की मदद से ऑक्सीजन के स्तर को नीचे गिरने से रोका जा सकता है। आयुर्वेद में कहा गया है शरीर को निरोग रखने के लिए योग कारगर उपाय है। आइए हम जानते है की आप कौन -कौन से योगासन और प्राणायाम द्वारा अपने ऑक्सीजन स्तर को सही रख सकते है।

ये प्राणायाम लभकारी -

अनुलोम - विलोम -

  • फेफड़े शक्तिशाली होते है।
  • सर्दी, जुकाम व दमा की शिकायतों से काफी हद तक बचाव होता है।
  • हृदय बलवान होता है।
  • गठिया के लिए फायदेमंद है।
  • मांसपेशियों की प्रणाली में सुधार करता है।
  • पाचन तंत्र को दुरुस्त करता है।
  • तनाव और चिंता को कम करता है।
  • पूरे शरीर में शुद्ध ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ाता है।

कपालभाति के फायदे -

  • बंद सांस नली खुल जाती है।
  • सांस का लेना आसान हो जाता है।
  • नसें मजबूत होती है।
  • ब्लड फ्लो में सुधार आता है।

उद्गीथ के फायदे -

  • याददाश्त बढ़ाने में सहायक
  • तनाव और चिंता दूर होती है
  • तंत्रिका तंत्र को ठीक रखता है
  • वजन घटाने में सहायक

उज्जायी के फायदे -

  • दिल के रोगों में लाभकारी
  • ध्यान की क्षमता को बढ़ता है
  • दिमाग में शांति बनाने में सहायक

भ्रामरी -

  • तनाव, गुस्सा और तनाव कम होता है।
  • माइग्रेन में लाभ

ये योगासन लाभकारी -

  • भुजंगासन
  • सर्वांगासन
  • योग मुद्रासन
  • शशकासन
  • मकरासन
  • विश्रामासन
  • गोमुखासन
  • उत्तानपादासन
  • ताड़ासन
  • तिर्यक ताड़ासन
  • हस्तासन
  • सेतुबंधासन
  • मंडूकासन
  • उष्ट्रासन
  • पवनमुक्तासन
  • नौकासन
  • शलभासन
  • धनुरासन
  • उष्ट्रासन के फायदे

इम्युनिटी बढ़ाने के उपाय -

  • गिलोय, तुलसी और अश्वगंधा की 1-1 वटी लें।
  • खाली पेट श्वसारि वटी 1 गोली सुबह-शाम लें।
  • सोने से पहले हल्दी वाला दूध पिएं।
  • भुने हुए चने खाएं

Updated : 24 April 2021 11:29 AM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top