Top
Home > स्वास्थ्य > यह तेल इन 6 रोगों से बचाएगा, पढ़े पूरी खबर

यह तेल इन 6 रोगों से बचाएगा, पढ़े पूरी खबर

यह तेल इन 6 रोगों से बचाएगा, पढ़े पूरी खबर

दिल्ली। हरड़ औषधीय गुणों से भरपूर होता है जिसके सूख जाने पर इसका इस्तेमाल त्रिफला चूर्ण को बनाने में भी किया जाता है। त्रिफला चूर्ण हमारी सेहत के लिए कई प्रकार से लाभदायक होता है। वहीं, हरड़ से तेल को भी निकालते हैं। इस तेल का सेवन करनेऔर इसके इस्तेमाल से हमारी सेहत को कई लाभदायक फायदे पहुंचाते हैं। जिसके बारे में आज हम आपको यहां पर जानकारी देंगे ताकि आप भी इसका इस्तेमाल करके सेहतमंद बने रहें। हरड़ का तेल आपको ग्रॉसरी शॉप पर भी बड़ी आसानी से मिल जाएगा।

-अगर आप अपनी त्वचा पर किसी भी प्रकार के बैक्टीरिया को नहीं चाहते हैं तो इसका इस्तेमाल अपनी त्वचा पर कर सकते हैं। वैज्ञानिक रिसर्च के अनुसार भी इस बात पर पुष्टि की गई है। हरड़ के तेल में एंटीबैक्टीरियल एक्टिविटी पाई जाती है जो त्वचा पर मौजूद बैक्टीरिया को मारने की क्षमता रखता है। इस गुण को ध्यान में रखते हुए आप भी अपनी त्वचा पर हरड़ के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं।

-एंटीबैक्टीरियल एक्टिविटी होने के कारण यह निश्चित रूप से दांतों को साफ करने के लिए काफी काम आ सकता है। आप चाहें तो ऑयल पुलिंग के रूप में भी हरड़ के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं। या दांतों के बीच जाकर वहां मौजूद बैक्टीरिया को मारकर आपके दांतों को स्वस्थ बनाए रखने में मदद कर सकता है। इसमें मौजूद एंटी इन्फ्लेमेटरी एक्टिविटी मसूड़ों की सूजन को कम करने के भी काम आ सकती है।

-त्वचा पर इस्तेमाल करने के लिए अगर आप हरड़ के तेल का इस्तेमाल करते हैं तो यह निश्चित रूप से आपको फायदा दिखाएगा। इस तेल में एंटी ऑक्सीडेंट की मात्रा पाई जाती है। एंटी ऑक्सीडेंट एक विशेष प्रकार की क्रिया होती है जो हमारी त्वचा से सीधा संबंध रखती है। यह त्वचा को निखारने और एंटी एजिंग प्रभाव को कम करने के साथ-साथ त्वचा में कसाव भी उत्पन्न करती हैं। इस बात को ध्यान में रखते हुए त्वचा संबंधित फायदे के लिए आप भी हरड़ के तेल का इस्तेमाल अपनी त्वचा पर कर सकते हैं।

-सिर दर्द की समस्या से कई सारे लोग परेशान होते हैं। यह ज्यादा स्ट्रेस लेने के कारण या फिर कभी कभी कुछ मेडिकल कंडीशन की वजह से भी होता है। अगर आप भी सिरदर्द की समस्या से जूझ रहे हैं तो हरड़ तेल का इस्तेमाल आपके लिए काफी फायदेमंद रहेगा। हरड़ के तेल में गुण पाया जाता है। इसके साथ-साथ इसमें मौजूद सूदिंग का प्रभाव सिरदर्द को कम करने और आपके दिमाग को शांत रखने में भी काफी मददगार साबित होगा।

-ऐसे कई पैरासाइट्स होते हैं जो आपको खुले वातावरण में इनफेक्टेड कर सकते हैं। इसके अलावा सेक्सुअल एक्टिविटी के दौरान भी कुछ पैरासाइट्स आप को संक्रमित कर सकते हैं। वहीं, डॉक्टरी अध्ययन के दौरान इस बारे में पुष्टि की जा चुकी है कि हरड़ के तेल का इस्तेमाल सेक्सुअल एक्टिविटी के दौरान कुछ पैरासाइट्स के कारण होने वाले संक्रमण के खतरे से आपको बचा सकता है।

-कैंसर के जोखिम का कारण मुख्य रूप से कैंसर सेल्स ही होती हैं। यह धीरे-धीरे बड़ी होती हैं और उसके बाद शरीर के किसी एक ऑर्गन में यह कैंसर का बड़ा रूप धारण कर लेती हैं। वहीं, अगर खाने के जरिए आप हरड़ तेल का सेवन कर रहे हैं तो यह कैंसर सेल्स को रोकने के लिए सक्रिय रूप से कार्य कर सकता है। वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार भी इस बारे में पुष्टि की जा चुकी है। इसलिए से बचे रहने के लिए आप हफ्ते में कम से कम 2 बार इस तेल का सेवन भी कर सकते हैं।

Updated : 11 May 2020 6:55 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top