Top
Home > स्वास्थ्य > जानिए, कोरोना वायरस को लेकर ऐसे दावों की सच्चाई

जानिए, कोरोना वायरस को लेकर ऐसे दावों की सच्चाई

जानिए, कोरोना वायरस को लेकर ऐसे दावों की सच्चाई

नई दिल्ली। कोरोना के खिलाफ जंग में इसको लेकर फैल रहे भ्रम और अफवाहों को रोकना भी बड़ी चुनौती है। कोविड-19 को लेकर सोशल मीडिया, वॉट्सऐप ग्रुप के जरिए कई झूठे दावे किए जा रहे हैं। कई ऐसी सूचनाओं को लोगों ने सच मान लिया है, जिनका सच्चाई से वास्ता नहीं है। ऐसे में सरकार ने कई मिथ को दूर किया है। MyGov वेबसाइट पर सरकार ने ऐसे झूठे दावों की पोल विश्व स्वास्थ्य संगठन की ओर से दी गई जानकारियों के आधार पर खोली है।

दावा: गर्म पानी के भाप को सांस के जरिए अंदर लेने से मर जाते हैं करोना वायरस

सच्चाई: यह गलत है। भाप को सांस के जरिए अंदर खीचने से कोरोना वायरस नहीं मरता है। रेस्पिरेटरी हाइजिन, सोशल डिस्टेंशिंग और हाथों को साफ रखना कोरोना वायरस से बचने के प्रभावी उपाय हैं।

दावा: गर्म मौसम में अपने आप मर जाएंगे कोरोना वायरस

सच्चाई: यह अभी तक साबित नहीं हुआ है कि यह गर्म तापमान में मर जाएगा या नहीं। आगे इसकी पुष्टि होने तक बचाव के तरीकों का पालन जरूरी है।

दावा: शराब पीने से कोरोना संक्रमण नहीं होता।

सच्चाई: शराब पीने से कोई कोविड-19 से नहीं बचता है। शराब पीना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है।

दावा: कोरोना वायरस हवा से फैलता है

सच्चाई: कोरोना वायरस हवा से नहीं फैलता है। कोविड-19 संक्रमित व्यक्ति के ड्रॉपलेट्स (छींक या खांसी के दौरान मुंह या नाक से निकली छोटी बूंदें) से फैलता है।

दावा: नींबू और हल्दी के सेवन से कोरोना नहीं होता

सच्चाई: इसको लेकर कोई वैज्ञानिक शोध या सबूत नहीं है कि नींबू और हल्दी के सेवन से कोविड-19 नहीं होता। हालांकि, स्वास्थ्यवर्धक खाने में पर्याप्त फल और सब्जियां लेने की सलाह दी जाती है।

दावा: धूप से मर जाता है कोरोना वायरस

सच्चाई: विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक कोई सबूत नहीं जो बताता हो कि सूरज की रोशनी से कोरोना मर जाता है।

दावा: गर्म पानी में नहाने से मर जाता है कोरोना वायरस

सच्चाई: सरकार ने WHO के हवाले से ऐसे दावों का खंडन किया है। गर्म पानी से नहाने से कोई प्रभाव नहीं पड़ता है।

दावा: मच्छरों के काटने से फैलता है कोरोना

सच्चाई: डेंगू, मलेरिया जैसे कई रोग मच्छरों के काटने से होते हैं, लेकिन कोरोना वायरस मच्छरों के काटने से नहीं, संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से फैलता है।

दावा: पालतू जानवरों से फैलता है कोरोना वायरस

सच्चाई: विश्व स्वास्थ्य संगठन और सेंटर ऑफ डिजीज कंट्रोल (सीडीसी) ने इन दावों को झूठा बताया है। सीडीसी ने एक बयान में कहा कि इस तरह की कोई रिपोर्ट नहीं मिली है।

दावा: लहसुन खाने से कोरोना वायरस संक्रमण नहीं होता।

सच्चाई: विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक इसको लेकर कोई वैज्ञानिक पुष्टि नहीं है।

Updated : 31 March 2020 2:53 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top