Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > गुना > पूल सैंपलिंग के लिए पहुंच रही टीम का गर्मी से हाल बेहाल

पूल सैंपलिंग के लिए पहुंच रही टीम का गर्मी से हाल बेहाल

पूल सैंपलिंग के लिए पहुंच रही टीम का गर्मी से हाल बेहाल

ग्वालियर, न.सं.। कोरेाना वायरस के दायरे का पता लगाने के लिए प्रशासन द्वारा जहां समूहिक रूप से नमूने लेने के लिए शिविर लगवाए जा रहे हैं। वहीं शिविर में अव्यवस्थाओं के कारण चिकित्सकों व अन्य स्वास्थ्यकर्मियों का हाल बेहाल है। शिविर में कूलर तो दूर पंखे तक की व्यवस्था नहीं की जा रही है, जिस कारण पीपीई किट में नमूने लेने पहुंच रही टीम का दम घुट रहा है।

दरअसल जिला प्रशासन के मार्गदर्शन में सामूहिल रूप से नमूने लेने के लिए शिविर आयोजित किए जा रहे हैं। शिविरों में सामूहिक रूप से सब्जी वाले, हथ ठेले वाले, फुटपाथ पर दुकान लगाने वाले लोगों के नमूने लिए जा रहे हैं। लेकिन जिस जगह शिविर लगवाए जा रहे हैं, वहां पंखे तक नहीं रखवाए जा रहे। जबकि टीम के सभी सदस्य खुद की सुरक्षा के लिए प्लास्टिक कोटिट पीपीई किट पहननी पड़ती है। लेकिन उमस भरी गर्मी में पंखों की व्यवस्था न होने के कारण पसीने से किट के भीतर पहने कपड़े पूरी तरह भीग जाते हैं और दम घुटने लगता है। चिकित्सकों का कहना है कि शिविर में प्रशासन को हवा के लिए कूलर पंखे की व्यवस्था करनी चाहिए, जिससे परेशानी कम होगी। इतना ही नहीं गत दिवस मंघाराम फैक्ट्री में लगे शिविर में नमूने लेने के दौरान एक वार्ड वॉय चक्कर खाकर भी गिर गया था, उसके बाद भी प्रशासन बेहतर प्रबंध नहीं कर पा रहा है।

365 के लिए सामूहिक नमूनें

इधर स्वास्थ्य विभाग की टीम में शामिल डॉ. आशीष, संदीप प्रधान, विपिन श्रीवास्तव, पुष्पेंद्र गोयल, रंजीत रजक, अभय माथुर, अर्चना मेहरा द्वारा चार शहर का नाका स्थित सोना गार्डन में पूल सैंपलिंग के लिए लगाए गए शिविर में 140 के नमूने लिए गए। इसके अलावा वीरपुर में भी नमूनों के लिए शिविर लगाया गया। इसी के चलते गुरूवार को कुल 585 के नमूने लिए गए।


Updated : 26 Jun 2020 1:05 AM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top