Home > Lead Story > कौन हैं Panchayat के पहलाद चा, सच्‍ची कहानी सुनकर हैरान रह जाएंगे आप?

कौन हैं Panchayat के पहलाद चा, सच्‍ची कहानी सुनकर हैरान रह जाएंगे आप?

28 मई को ओटीटी प्लेटफार्म पर रीलीज हुई Panchayat 3 सभी दर्शकों का दिल जीत रही है। एक किरदार जिसकी सबसे ज्‍यादा तारीफ हो रही है वह प्रहलाद चा, यानि फैजल मलिक की।

कौन हैं Panchayat के पहलाद चा, सच्‍ची कहानी सुनकर हैरान रह जाएंगे आप?
X

कौन हैं Panchayat के पहलाद चा, सच्‍ची कहानी सुनकर हैरान रह जाएंगे आप

28 मई को ओटीटी प्लेटफार्म पर रीलीज हुई Panchayat 3 सभी दर्शकों का दिल जीत रही है। इस सीरीज को दर्शकों द्वारा ढेर सारा प्यार मिल रहा है। इस सीरीज में जितेंद्र कुमार, रघुबीर यादव, नीना गुप्ता जैसे फेमस स्टार्स ने अपनी दमदार एक्टिंग का बखूभी प्रदर्शन किया है लेकिन एक किरदार जिसकी सबसे ज्‍यादा तारीफ हो रही है वह प्रहलाद चा, यानि फैजल मलिक की।

आइए जानते हैं कौन है फैजल मलिक और कैसा उनका एक्टिंग करियर

पंचायत की सीरीज के लिए सबसे पहले किया था कास्ट।

दरअसल पंचायत 3 में सबका दिल जीतने वाले प्रहलाद चाचा का असली नाम फैसल मालिक है । आपको बता दें की फैसल मलिक इस सीरीज के प्रोड्यूसर भी हैं। साथ ही उन्होंने अमेरिकन शोज में भी काम किया है। एक्टिंग के साथ फैसल एडिटिंग ओर प्रोडक्शन का काम भी देखते है। फैसल अपनी खुद की एक प्रोडक्शन कंपनी भी चलाते है। पंचायत सीरीज के लिए सबसे पहले फैसल की कास्टिंग की गई। वे इस रोल में परफेक्ट फिट हो गए।

2011 में अपनी हिन्दू दोस्त से कर ली थी शादी।

फैसल मलिक ने 2011 में अपनी दोस्त कुमुद शाही से शादी कर ली थी। वह दोनों साल 2002 से एक दूसरे को डेट कर रहे थे। कुमुद एक हिंदू परिवार से ताल्लुक रखती थी। शुरुआती समय में कुमुद और फैसल के घरवाले इस शादी के खिलाफ थे। इसलिए दोनों ने आपसी सहमति से कोर्ट मैरिज कर ली बाद में उनके घरवालों ने इस शादी को अपना लिया था।

12 साल पहले आई गैंग्स ऑफ वासेपुर-2 में भी इंस्पेक्टर का किरदार निभाकर बटोर चुके है सुर्खिया।

आपको बता दें की पंचायत वेब सीरीज से पहले फैसल मलिक ने नवाजुद्दीन सिद्दीकी और राज कुमार राव स्टारर फिल्म गैंग्स ऑफ वासेपुर 2 में काम किया था। अनुराग कश्यप द्वारा निर्देशित इस फिल्म में फैजल ने इंस्पेक्टर गोपाल का रोल प्ले किया था और सबका दिल जीता था। अपने एक निजी इंटरव्यू में फैसल ने बताया कि गैंग्स ऑफ वासेपुर-2 की फिल्म करने के बाद उनके पास ढेर सारे पुलिस इंस्पेक्टर के रोल ऑफर होने लगे। लोग उन्हें बस पुलिस का किरदार ही ऑफर करने लगे।

22 साल की उम्र में रखा था मायानगरी में कदम

एक इंटरव्यू में फैसल ने बताया कि वे 2002 में मुंबई आ गए थे। उन्हें किसी ने बताया था कि मुंबई में पैसे कमाना सबसे आसान है। लेकिन जब वे मुंबई आए तब उन्हे एहसास हुआ कि यहां जीवन गुजारना सबसे कठिन है। वह आगे बताते है कि उनकी पढ़ाई इलाहबाद से हुई। पढ़ाई लिखाई में वह बिल्कुल भी अच्छे नहीं थे और यही एक वजह है की उन्होंने दसवीं की कक्षा 5 साल बाद पास की थी।

जब MBA की पढ़ाई के सारे पैसे खा गए थे फैसल

बारहवीं की पढ़ाई के बाद फैसल लखनऊ आ गए जहां से उन्होंने बीकॉम की पढ़ाई पूरी की। बीकॉम की डिग्री लेने के बाद उनके घरवाले चाहते थे कि वह MBA की पढ़ाई करें लेकिन उस वक्त उन्होंने MBA की कोचिंग के लिए दिया पैसा खा लिया था।

मुंबई में टेप लगाने के काम से की शुरुआत

मुंबई में स्ट्रगल के दौरान ही किसी परिचित ने उन्हें एक्टिंग करने सलाह दी। लेकिन फैसल को ये कम भी बहुत कठिन लगा इसलिए उन्होंने पैसे कमाने के लिए पहली नौकरी में टेप लगाने का काम शुरू किया था, जिसके बाद वह एडिटर बन गए। पंचायत सीरीज के अलावा फैसल और भी कई बड़े प्रोजेक्ट पर काम कर रहे है, जो जल्द ही दर्शकों को देखने को मिलेंगे।

Updated : 5 Jun 2024 10:41 AM GMT
Tags:    
author-thhumb

Abhilasha Kanade

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Top