Top
Home > मनोरंजन > 54 साल के हुए ऑस्कर अवार्ड विजेता संगीतकार एआर रहमान

54 साल के हुए ऑस्कर अवार्ड विजेता संगीतकार एआर रहमान

54 साल के हुए ऑस्कर अवार्ड विजेता संगीतकार एआर रहमान
X

मुंबई। मशहूर संगीतकार एआर रहमान ने भारत में ही नहीं, बल्कि विश्व में भी अपनी अलग पहचान बनाई है। आज रहमान अपना 54वां जन्मदिन मना रहे हैं। एआर रहमान का जन्म 6 जनवरी,1966 को तमिलनाडु में हुआ था। उनका वास्तविक नाम एएस दिलीप कुमार था, लेकिन धर्म परिवर्तन के बाद उन्होंने अपना नाम बदलकर अल्लाह रक्खा रहमान यानी एआर रहमान रख लिया। एआर रहमान के पिता राजगोपाल कुलशिखर मलयालम संगीतकार थे। पिता से यह गुण रहमान को विरासत में मिला। रहमान जब नौ साल के थे तब उनके पिता का निधन हो गया। पिता की मृत्यु के बाद परिवार की जिम्मेदारी रहमान पर आ गई। इसके बाद 11 साल की छोटी उम्र में रहमान अपने बचपन के मित्र शिवमणि के साथ रहमान बैंड रुट्स के लिए की-बोर्ड बजाने का काम करने लगे। इस दौरान उन्होंने कन्नड़ भाषा की कई फिल्मों के लिए की-बोर्ड बजाये। उन्होंने मास्टर धनराज से संगीत की शिक्षा ली। उसके बाद वह 'नेमसिस एवेन्यू' नामक रॉक बैंड का हिस्सा बने, जहां उन्होंने एक निर्माता के रूप में कार्य किया।

साल 1991 में उनकी मुलाकात निर्माता शारदा त्रिलोक से हुई, जिन्होंने रहमान को अपने चचेरे भाई मणिरत्नम से मिलवाया, जहां रहमान ने अपने प्रदर्शन से मणिरत्नम को इतना प्रभावित किया कि उन्होंने रहमान को फिल्म रोजा (1992) का संगीत देने के लिए चुना। यही से एआर रहमान ने एक संगीतकार के रूप में अपने करियर की शुरुआत की। 'रोजा' के म्यूजिक हिट रहे और पहली फिल्म में ही रहमान ने फिल्मफेयर पुरस्कार जीता। इसके बाद रहमान ने कभी पीछे मुड़ कर नहीं देखा। उन्होंने तमिल से लेकर हिंदी और फिर हॉलीवुड तक अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया।उन्होंने तहजीब, बॉम्बे, दिल से, रंगीला, ताल, जीन्स, पुकार, फिजा, लगान, मंगल पांडे, स्वदेश, रंग दे बसंती, जोधा-अकबर, जाने तू या जाने ना, युवराज, स्लमडॉग मिलियनेयर, गजनी जैसी फिल्मों में संगीत दिया है। रहमान ने साल 1997 में देशभक्ति म्यूजिक एल्बम 'वंदे मातरम' बनाया, जो काफी पॉपुलर हुआ। इसके अलावा रहमान ने फिल्म '99 सांग्स' और 'ले मुश्क' को प्रोड्यूस भी किया हैं।

रहमान पहले ऐसे भारतीय है, जिन्हें गोल्डन ग्लोब अवॉर्ड से सम्मानित किया गया हैं।

इसके अलावा वह ऐसे पहले भारतीय हैं, जिन्हें ब्रिटिश भारतीय फिल्म 'स्लमडॉग मिलेनियर' में उनके संगीत के लिए दो ऑस्कर पुरस्कार प्राप्त हुए। अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान बना चुके रहमान को साल 2000 में भारत सरकार ने पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया। एआर रहमान ने 1995 में सायरा बानू से शादी की। रहमान और सायरा के तीन बच्चे कत्तिजा, रहीमा और अमीन हैं। रहमान और उनके बेटे अमीन का जन्मदिन एक ही दिन 6 जनवरी को आता है। संगीत को नया आयाम देने वाले रहमान के चाहनेवालों की संख्या लाखों में है।

Updated : 6 Jan 2020 8:21 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top