Top
Home > मनोरंजन > मैंने ऐसा क्या कह दिया जिस पर मुझे गद्दार कहा जा रहाः नसीरुद्दीन शाह

मैंने ऐसा क्या कह दिया जिस पर मुझे गद्दार कहा जा रहाः नसीरुद्दीन शाह

मैंने ऐसा क्या कह दिया जिस पर मुझे गद्दार कहा जा रहाः नसीरुद्दीन शाह
X

नई दिल्ली, 21 दिसम्बर। हाल ही में एक सामाजिक संस्था कारवाने मोहब्बत को दिए विवादास्पद इंटरव्यू पर नसीरुद्दीन शाह ने सफाई देते हुए मीडिया से कहा, 'मैंने जो भी कहा था, वह एक चिंतित भारतीय के तौर पर कहा था। मैंने ऐसा क्या कह दिया, जिस पर मुझे गद्दार कहा जा रहा है? मैंने उस देश के बारे में अपनी चिंता जाहिर की, जिसे मैं प्यार करता हूं। वह देश जो मेरा घर है। यह आखिर अपराध कैसे हो गया?'

उल्लेखनीय है कि कारवाने मोहब्बत को दिए इंटरव्यू में नसीरुद्दीन शाह ने कहा था कि 'देश में सांप्रदायिकता और असहिष्णुता का जहर इतना अधिक फैल गया है कि उन्हें अपने बच्चों के भविष्य को लेकर चिंता हो रही है। सांप्रदायिकता का जिन्न बाहर आ गया है और उसे बोतल में फिर बंद करना नामुमकिन लगता है।' नसीरुद्दीन शाह ने बुलंदशहर में हुए दंगे का उल्लेख करते हुए कहा कि 'आज देश में ऐसे हालात हैं कि एक गाय की जान की कीमत पुलिस अधिकारी की मौत से ज्यादा अहम मानी जा रही है। देश में कानून हाथ में लेने वालों को पूरी छूट मिली हुई है।' कलाकार रत्ना शाह और अपने वैवाहिक जीवन का जिक्र करते हुए कहा कि उन्होंने अपने बच्चों को कोई मजहबी तालीम नहीं दी है, केवल उन्हें मानवीय मूल्य और अच्छाई-बुराई की सीख दी है। उन्हें इस बात को लेकर चिंता होती है कि कभी कहीं कोई भीड़ उनके बच्चों को घेरकर सवाल पूछ सकती है कि उनका मजहब क्या है। बच्चों के पास इसका कोई जवाब नहीं होगा। उन्होंने कहा कि मौजूदा हालात से उन्हें डर नहीं लगता बल्कि उन्हें इस पर गुस्सा आता है और उनका मानना है कि सही तरीके से सोचने वाले हर व्यक्ति को गुस्सा आएगा। देश में कथित असहिष्णुता के महौल के बारे में फिल्म अभिनेता आमिर खान ने कुछ समय पूर्व टिप्पणी की थी जिसकी बहुत आलोचना हुई थी। नसीरुद्दीन के इस कथन को लेकर भी सोशल मीडिया में पक्ष-विपक्ष में विचार व्यक्त किए जा रहे हैं। (हि.स.)

Updated : 21 Dec 2018 12:03 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top