Top
Home > शिक्षा > सिम्बायोसिस और अमृता विश्वविद्यालय स्वच्छता रैंकिंग में सबसे ऊपर

सिम्बायोसिस और अमृता विश्वविद्यालय स्वच्छता रैंकिंग में सबसे ऊपर

सिम्बायोसिस और अमृता विश्वविद्यालय स्वच्छता रैंकिंग में सबसे ऊपर
X

नई दिल्ली/स्वदेश वेब डेस्क। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने सोमवार को देशभर के उच्च शिक्षण संस्थानों की 'स्वच्छता कैंपस रैंकिंग' जारी की। इस रैंकिंग के अनुसार आवासीय विश्वविद्यालय श्रेणी में महाराष्ट्र का सिम्बायोसिस अंतरराष्ट्रीय विश्वविद्यालय, तकनीकी संस्थान के श्रेणी में तमिलनाडु का अमृता विश्व विद्यापीठम और सरकारी विश्वविद्यालयों में हरियाणा का महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय पहले स्थान पर है।

देश भर के शहरों और गांवों में स्वच्छ भारत अभियान की तर्ज पर कॉलेज छात्रों में स्वच्छता के प्रति जागरुकता पैदा करने के लिए यह रैंकिंग जारी की गई है। इसके अन्तर्गत आठ विभिन्न श्रेणियों में चयनित 51 विश्वविद्यालयों व कॉलेजों में सबसे अधिक तमिलनाडु के 16 संस्थान शामिल हैं। इस सूची में हरियाणा और राजस्थान के पांच-पांच, महाराष्ट्र, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, पंजाब, आंध्र प्रदेश, दिल्ली, के तीन-तीन संस्थानों ने जगह बनाई है। चंडीगढ़ के दो संस्थान हैं। इसके अलावा गुजरात, चंडीगढ़, असम, ओडिशा और मध्य प्रदेश के एक-एक संस्थान शामिल हैं।

मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा आयोजित इस कैंपस स्वच्छता अभियान-2018 में हिस्सा लेने के लिए संस्थानों ने मंत्रालय की वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन किया था। इसके लिए आवेदन की अंतिम तिथि 28 अगस्त थी। आवेदन करने वाले संस्थानों का सितम्बर माह में विभिन्न टीमों द्वारा निरीक्षण किया गया था।

स्वच्छता कैंपस रैंकिंग-2018

श्रेणी- विश्वविद्यालय (आवासीय)

महाराष्ट्र का सिम्बायोसिस अंतरराष्ट्रीय विश्वविद्यालय पहले स्थान पर है। दूसरे स्थान पर हरियाणा की ओपी जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी, तीसरे स्थान पर कर्नाटक की केएलई एकेडमी ऑफ हायर एजुकेशन एंड रिसर्च, चौथे स्थान पर राजस्थान की मणिपाल यूनिवर्सिटी, पांचवें स्थान पर चेन्नई का श्री रामचंद्र मेडिकल कालेज एवं अनुसंधान संस्थान, छठे स्थान पर कर्नाटक का रीवा विश्वविद्यालय, सातवें स्थान पर उत्तर प्रदेश का शिव नादर विश्वविद्यालय, आठवें स्थान पर पंजाब की लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी, नौवें स्थान पर आंध्र प्रदेश का द्रविड़ विश्वविद्यालय और दसवें स्थान पर भी आंध्र प्रदेश का ही कोनेरू लक्ष्मी एजुकेशन फाउंडेशन है।

श्रेणी- विश्वविद्यालय (गैर-आवासीय)

पहले स्थान पर आईटीएम विश्वविद्यालय छत्तीसगढ़, दूसरे पर द नॉर्थकैप यूनिवर्सिटी गुडगांव, हरियाणा, तीसरे स्थान पर डॉ. सी.वी. रमण विश्वविद्यालय छत्तीसगढ़ चौथे स्थान पर आर.के. विश्वविद्यालय गुजरात और पांचवें स्थान पर दिल्ली का इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय (इग्नू) है।

श्रेणी- कॉलेज (आवासीय)

इस श्रेणी में पहले स्थान पर चंडीगढ़ का एमसीएम डीएवी महिला कॉलेज, दूसरे स्थान पर तमिलनाडु का पीएसजी कॉलेज ऑफ आर्ट्स एडं साइंस, तीसरे स्थान पर कर्नाटक का सेंट अलॉयसियस कॉलेज, चौथे स्थान पर तमिलनाडु का श्री कृष्ण आर्ट्स एडं साइंस कॉलेज और पांचवें स्थान पर हरियाणा का जी.डी.सी. मेमोरियल कॉलेज बहल।

श्रेणी- कॉलेज (गैर-आवासीय)

कॉलेजों की श्रेणी में पहले स्थान पर श्री पराशक्ति कॉलेज ऑफ एजुकेशन फॉर वुमन, दूसरे स्थान पर राजस्थान का प्रिंस एकेडमी ऑफ हायर एजुकेशन, तीसरे स्थान पर भी राजस्थान का ही प्रिंस शिक्षक प्रशिक्षण है। चौथे स्थान पर तमिलनाडु का महेंद्र कॉलेज ऑफ एजुकेशन और पांचवें स्थान पर रास्थान का कौटिल्य महिला टी.टी. कॉलेज, नयागांव है।

श्रेणी- तकनीकी संस्थान अथवा विश्वविद्यालय (आवासीय)

पहले स्थान पर तमिलनाडु का अमृता विश्व विद्यापीठम, दूसरे स्थान पर असम का भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी), गुवाहाटी, तीसरे स्थान पर ओडिशा का शिक्षा ओ अनुसंधान विश्वविद्यालय, चौथे स्थान पर दिल्ली का इंद्रप्रस्थ इंस्टीट्यूट ऑफ इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी, पांचवें स्थान पर महाराष्ट्र का कृष्णा इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस डीम्ड यूनिवर्सिटी, छठे स्थान पर राजस्थान का एनआईआईटी विश्वविद्यालय, सातवें स्थान पर तमिलनाडु का कलासलिंगम अकादमी ऑफ रिसर्च एंड हायर एजुकेशन, आठवें स्थान पर भी तमिलनाडु का ही भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मद्रास (आईआईटी-एम), नौवें स्थान पर मध्य प्रदेश का अटल बिहारी वाजपेयी- भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी और प्रबंधन संस्थान (एबीवी- आईआईआईटीएम) और दसवें स्थान पर तमिलनाडु का राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान तिरुचिरापल्ली है।

श्रेणी- तकनीकी कॉलेज (आवासीय)

इस श्रेणी के पहले चार स्थानों पर तमिलनाडु के संस्थानों ने बाजी मारी है। पहले स्थान पर पैनिमलर इंजीनियरिंग कॉलेज, दूसरे पर श्री कृष्ण कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी, श्री साई राम इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, चौथे स्थान पर श्री शनमुघा कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी सेलम, पांचवें स्थान पर हरियाणा का राष्ट्रीय खाद्य प्रौद्योगिकी उद्यमशीलता एवं प्रबंधन संस्थान (निफ्टम) और छठे स्थान पर उत्तर प्रदेश का एबीईएस इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी है।

श्रेणी- तकनीकी कॉलेज (गैर-आवासीय)

पहले स्थान पर तमिलनाडु का ईश्वरीय इंजीनियरिंग कॉलेज, दूसरे स्थान पर उत्तर प्रदेश का क्राइस्ट इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, तीसरे स्थान पर नवी मुंबई का महात्मा गांधी मिशन मेडिकल कॉलेज, चौथे स्थान पर तमिलनाडु का श्री ननधानम कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी और पांचवें स्थान पर पंजाब का ओमकार कॉलेज ऑफ फार्मेसी है।

श्रेणी- सरकारी विश्वविद्यालय

पहले स्थान पर हरियाणा का महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय, दूसरे स्थान पर पंजाब का गुरु नानक देव विश्वविद्यालय, तीसरे स्थान पर दिल्ली का यकृत व पित्त विज्ञान संस्थान (आईएलबीएस), चौथे स्थान पर तमिलनाडु का अलागप्पा विश्वविद्यालय कराईकुडी और पांचवें स्थान पर आंध्र प्रदेश का आचार्य नागार्जुन विश्वविद्यालय है।

Updated : 2018-10-02T02:45:53+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top