Top
Home > शिक्षा > कैरियर > लॉकडाउन में आईआईटी रूड़की ने डिजिटल मोड से शुरू की पढ़ाई, इंटरनेट के लिए मिलेंगे 500 रुपए

लॉकडाउन में आईआईटी रूड़की ने डिजिटल मोड से शुरू की पढ़ाई, इंटरनेट के लिए मिलेंगे 500 रुपए

लॉकडाउन में आईआईटी रूड़की ने डिजिटल मोड से शुरू की पढ़ाई, इंटरनेट के लिए मिलेंगे 500 रुपए
X

नई दिल्ली। देशभर में कोरोना वायरस के प्रकोप के कारण चल रहे लॉकडाउन के बीच आईआईटी रूड़की ने डिजिटल मोड से पढाई शुरू कर दिया है। इंटरनेट से छात्रों को डिजिटल कंटेंट शेयर करना शुरू हो चुका है जिससे कि उनकी स्टडी प्रभावित न हो।

संस्थान ने दूरस्थ शिक्षा के तमाम उपाय अपने शिक्षकों को उपलब्ध कराए हैं जिससे कि अध्ययन-अध्यापन कार्य बाधित न हो। विभिन्न वर्गों के छात्रों के विभिन्न पाठ्यक्रम को ध्यान में रखते हुए भिन्न-भिन्न ऑनलाइन माध्यमों से कंटेंट उपलब्ध कराया जा रहा है।

संस्थान ने शिक्षकों ने कहा है कि वे लाइववीडियो, इंट्रैक्टिव लाइव वीडियो, पीपीटी, पीपीटी वायस के साथ, वाइस मैसेज या टेक्स मैसेज, पीडीएफ फाइल, डाकुमेंट, और जेपीजी (इमेज) मोड से स्टडी कंटेंट छात्रों को भेजें जिससे कि स्टडी के कार्य को अधिक से अधिक प्रभावी बनाया जा सके।

आईआईटी रूड़की के डायरेक्टर अजीत चतुर्वेदी ने अपने बयान में कहा, 'डिजिटल कंटेट शेयर करने के लिए जरूरी नहीं है कि यह लाइव ही हो या इंट्रैक्टिव वीडियो हो। कंटेंट के कई प्रकार होने से छात्रों को स्वतंत्रता होगी कि वह किस फॉर्मेट में कंटेट को यूज करना चाहते हैं। छात्रों की सुविधा के अनुसार, चैटिंग, वीडियो चैट, ईमेल आदि का इस्तेमाल कर उनकी शंकाओं का समाधान किया जा सकता है। सेमेस्टर टाइम-टेबल के अनुसार, लाइव क्लासेस का सेशन भी आयोजित किया जाना चाहिए। साथ ही लाइव के दौरान क्लासरूप में होने वाली टीचिंग से गति कुछ धीमी होनी चाहिए।'

सभी छात्रों के पास डेली हाईस्पीड इंटरनेट नहीं होता इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए। हालांकि एक बड़ी संख्या के छात्रों को मध्यम गतिवाला इंटरनेट तो मिलता ही है। जिन छात्रों को संस्थान की ओर से पूरा या आंशिक इंटरनेट खर्च मिलता है उन्हें 500 रुपए प्रति माह का रिइंबर्समेंट दिया जाएगा कि जिससे कि वह बेहतर इंटरनेट सुविधा का लाभ ले सकें। नॉर्मल क्लासेस शुरू हो जाने के बाद छात्रों को यह रिइंबर्समेंट दिया जाएगा।

Updated : 29 March 2020 7:29 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top