Top
Home > शिक्षा > कैरियर > बिहार राज्य शिक्षक पात्रता परीक्षा 2019 हुई रद्द, करीब 2.5 लाख उम्मीदवार हुए थे शामिल

बिहार राज्य शिक्षक पात्रता परीक्षा 2019 हुई रद्द, करीब 2.5 लाख उम्मीदवार हुए थे शामिल

बिहार राज्य शिक्षक पात्रता परीक्षा 2019 हुई रद्द, करीब 2.5 लाख उम्मीदवार हुए थे शामिल
X

पटना। बिहार बोर्ड द्वारा बिहार राज्य शिक्षक पात्रता परीक्षा 2019 रद्द करने का फैसला लिया गया है। इस परीक्षा के लिए बनाई गई जांच कमिटी की रिपोर्ट के आधार पर बोर्ड ने एसटीईटी 2019 को रद्द करने का निर्णय लिया।

ये परीक्षा 28 जनवरी को राज्य के 300 से ज्यादा केंद्रों पर दो शिफ्ट में आयोजित की गई थी। इसमें शिक्षक बनने की ख्वाहिश रखने वाले कुल 2,47,241 अभ्यर्थी शामिल हुए थे। परीक्षा संपन्न होने के बाद प्रश्न पत्र लीक होने का मामला उठा। जिसके बाद बिहार बोर्ड ने जांच कमिटी गठित की थी।

चार सदस्यीय कमिटी की अध्यक्षता बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के मुख्य निगरानी अधिकारी नीलकमल ने की। इनके अलावा प्रशासनिक पदाधिकारी संजय प्रियदर्शी, संयुक्त सचिव निकुंज प्रकाश नारायण और निगरानी पदाधिकारी राजीव कुमार कमिटी के सदस्य थे।

अब इस कमिटी ने अपनी रिपोर्ट सौंपी। रिपोर्ट में कहा गया है कि परीक्षा के दौरान मोबाइल फोन से प्रश्न पत्र की फोटो वायरल की गई। इस बीच राज्य के कई परीक्षा केंद्रों पर तोड़-फोड़ और हंगामा भी हुआ था। कई परीक्षार्थियों के खिलाफ प्राथमिकी भी दर्ज कराई गई थी।

जांच कमिटी ने अपनी रिपोर्ट में परीक्षा रद्द करने की अनुशंसा की थी। साथ ही इस परीक्षा के दोबारा आयोजन कराए जाने की भी सिफारिश की गई है। इसके लिए बिहार शिक्षा विभाग के पास अनुशंसा भेजी जा चुकी है। इस संबंध में बिहार बोर्ड ने नोटिस जारी कर पूरी सूचना दी है।

Updated : 17 May 2020 7:10 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top