Top
Home > अर्थव्यवस्था > सेंसेक्स में 558 की उछाल, निफ्टी 11300 पर बंद

सेंसेक्स में 558 की उछाल, निफ्टी 11300 पर बंद

सेंसेक्स में 558 की उछाल, निफ्टी 11300 पर बंद

नई दिल्ली। शेयर बाजार के लिए मंगलवार मंगलकारी रहा। सोमवार की मायूसी के बाद आज बाजार मजबूती के साथ बंद हुआ। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 558.22अंकों की तेजी के साथ 38,492.95 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं एनएसएई का निफ्टी भी 169 अंकों की उछाल के साथ 11,300 पर बंद हुआ। सुबह शेयर बाजार मजबूती के साथ खुला। सेंसेक्स 117.45 अंकों की तेजी के साथ 38,052.18 के स्तर पर तो निफ्टी भी कारोबार की शुरुआत हरे निशान से की थी।

आज सेंसेक्स के 30 में से 25 स्टॉक हरे निशान पर बंद हुए वहीं निफ्टी 50 के 42 स्टॉक फायदे के साथ आज दिन के कारोबार को क्लोज किया। निफ्टी टॉप गेनर में आज अल्ट्राटेक, कोटक बैंक, टीसीएस, ग्रासिम और टाटा मोटर्स प्रमुख स्टॉक रहे तो वहीं टॉप लूजर में आईसीआईसीआई बैंक, इन्फ्राटेल, नेस्ले इंडिया, एशियन पेंट्स और ओएनजीसी जैसे दिग्गज स्टॉक रहे।

वहीं अमेरिकी डालर के मुकाबले मंगलवार को रुपया महज एक पैसे की गिरावट दर्शाता 74.84 रुपये प्रति डॉलर (प्रारंभिक आंकड़ा) के पिछले स्तर के आसपास ही बंद हुआ। अंतरबैंक विदेशीमुद्रा विनिमय बाजार में रुपये में भारी उतार चढ़ाव दिखा और यह 74.71 रुपये के उच्च स्तर से 74.90 रुपये के निम्न स्तर के बीच झूलने के बाद सोमवार के बंद भाव के मुकाबले महज एक पैसे की गिरावट दर्शाता 74.84 सुबह प्रति डालर पर बंद हुआ। सोमवार को यह 74.83 रुपये प्रति डालर पर बंद हुआ था। बाजार सूत्रों ने कहा कि मजबूत शेयर बाजार और कच्चे तेल की कीमतों में स्थिरता के कारण रुपये को समर्थन मिला। जबकि विदेशी निधियों की धन निकासी और कोविड-19 के बढ़ते मामलों का निवेशकों की धारणा पर प्रभाव बना हुआ है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में ब्रेंट कच्चा तेल वायदा भाव 0.23 प्रतिशत बढ़कर 43.51 डालर प्रति बैरल हो गया।

बैंकिंग शेयरों में लगातार बिकवाली दबाव से सोमवार को बंबई शेयर बाजार का संसेक्स उतार- चढ़ाव भरे कारोबार में 194 अंक घटकर 37,935 अंक पर बंद हुआ। एनएसई का निफ्टी 62.35 अंक यानी 0.56 प्रतिशत गिरकर 11,131.80 अंक पर बंद हुआ। एशियाई बाजारों में सोमवार को मिला जुला रुख रहा। अमेरिका और चीन के बीच बढ़ता मनमुटाव और चीन तथा दक्षिण कोरिया में कोरोना वायरस के नये मामले सामने आने के बाद बाजार मिले जुले रुख के साथ बंद हुये।

बाजार नियामक सेबी ने रिलायंस कम्युनिकेशंस (आरकॉम) के गैर-परिवर्तनीय ऋणपत्र को क्रेडिट रेटिंग देने में चूक के मामले में केयर रेटिंग्स पर एक करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया। यह मामला आरकॉम के 375 करोड़ रुपये की मूल राशि के पुनर्भुगतान और फरवरी 2017 तथा मार्च 2017 में 9.7 करोड़ रुपये के ब्याज भुगतान में चूक से संबंधित है। केयर रेटिंग्स ने मई 2017 में आरकॉम द्वारा जारी किए गए गैर-परिवर्तनीय ऋणपत्रों की रेटिंग को घटाकर उसे डिफाल्ट की श्रेणी में रख दिया था। सेबी ने पाया कि केयर रेटिंग्स समय से आरकॉम की साख को प्रभावित करने वाले कारकों की निगरानी करने में विफल रही, जिसके चलते रेटिंग प्रक्रिया को आगे बढ़ाने और रेटिंग को घटाने में काफी देरी हुई।

Updated : 2020-07-28T21:29:09+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top