Latest News
Home > अर्थव्यवस्था > रिजर्व बैंक सुरक्षित डिजिटल लोन और जबरन कर्ज वसूली के खिलाफ जारी करेगी गाइडलाइन

रिजर्व बैंक सुरक्षित डिजिटल लोन और जबरन कर्ज वसूली के खिलाफ जारी करेगी गाइडलाइन

रिजर्व बैंक सुरक्षित डिजिटल लोन और जबरन कर्ज वसूली के खिलाफ जारी करेगी गाइडलाइन
X

नईदिल्ली। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) सुरक्षित डिजिटल लोन और जबरन कर्ज वसूली करने वालों के खिलाफ जल्द ही सख्त नियम लाएगा। डिजिटल तरीके से कर्ज प्रदान करने की प्रणाली को सुरक्षित और मजबूत बनाने के लिए रिजर्व बैंक जल्द ही दिशा-निर्देश जारी करेगा।

रिजर्व बैंक गवर्नर शक्ति कांत दास ने शुक्रवार को एक कार्यक्रम में कहा कि बैंकों के एजेंटों का ग्राहक को परेशान करना अब बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। दास ने सखत लहजे में कहा कि खराब भाषा में बात करना सहित अन्य कठोर तरीकों का इस्तेमाल बिल्कुल स्वीकार्य नहीं है। डिजिटल तरीके से कर्ज प्रदान करने की प्रणाली को सुरक्षित और मजबूत बनाने के लिए रिजर्व बैंक जल्द ही दिशा-निर्देश जारी करेगा।

लोन के नाम पर ठगी -

गवर्नर दास ने कहा कि डिजिटल तरीके से कर्ज प्रदान करने की प्रणाली को सुरक्षित और मजबूत बनाने के लिए आरबीआई जल्द ही दिशा-निर्देश जारी करेगा। उन्होंने इस बात पर भी चिंता जताई कि किस तरह डिजिटल प्लेटफॉर्म पर लोगों के साथ लोन बांटने के नाम पर ठगी हो रही है। हालांकि, दास ने कहा कि इस बारे में लोगों को जागरूक करने के लिए आरबीआई समय-समय पर गाइडलाइन भी जारी करता है।

महंगाई का दबाव -

शक्तिकांत दास ने कहा कि भारत ही नहीं अमेरिका और यूरोप सहित विश्व के के देशों में महंगाई का दबाव है। इसको अचानक थामना किसी के बस की बात नहीं, लिहाजा उच्च महंगाई दर को बर्दाश्त करना वक्त की जरूरत है। उन्होंने कहा कि महंगाई को लेकर हमने जो कदम उठाए हैं, उन फैसलों पर कायम हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी से निपटने और देश की अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए नीतिगत कदम उठाने में आरबीआई कभी पीछे नहीं रहा है। हम वक्त की जरूरत के साथ चल रहे हैं।

Updated : 18 Jun 2022 10:13 AM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top